अश्लील वीडियो बनाकर वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेली युवती, सांसद को लिखा पत्र

0
1633
Spread the love
Spread the love

Kaithal News : अश्लील वीडियो बनाकर और उसे ब्लैकमेल करके वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेली गई कैथल निवासी एक युवती ने सांसद राजकुमार सैनी को पत्र लिखकर इंसाफ की गुहार लगाई है। युवती ने पत्र में लिखा कि उसने डी.सी. एवं पुलिस से भी मदद मांगी थी लेकिन उसे कहीं से भी इंसाफ नहीं मिला। पत्र में पीड़िता ने कहा कि वह कॉलेज में पढ़ती है, इसी दौरान उसकी दोस्ती कैथल के पास के गांव निवासी एक युवक से हुई। युवक ने कहा कि वह उससे शादी करेगा और एक दिन होटल में ले जाकर उससे शारीरिक संबंध बना लिए, होटल आरोपी का ही है। युवती ने कहा कि इसके बाद आरोपी उससे लगातार रेप करता रहा।

एक दिन आरोपी के मामा ने भी उससे छेड़छाड़ की। उसने विरोध किया तो आरोपी ने उसकी अश्लील वीडियो बना सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी। युवती ने लिखा कि अंबाला रोड व ढांड रोड पर बने होटलों में उसे बुलाया जाता और उससे गलत काम किया जाता। उसके अलावा भी 8-10 लड़कियां आरोपियों ने ऐसे ही फंसा रखी हैं, जिससे वह गलत काम करवाते हैं। पीड़िता ने बताया है कि उसकी मां की मौत हो चुकी है और पिता मजदूरी करता है। 2 छोटे भाई-बहन हैं, जिनके कारण वह जिंदा है, नहीं तो वह इतनी जलालत सहन कर चुकी है कि मरने को दिल करता है।

आरोपी ने पुलिस के सामने ही की पिटाई
पीड़िता ने कहा कि एक बार उसने हिम्मत करके 100 नं. पर मामले की सूचना दी थी लेकिन पुलिस ने आरोपियों पर कार्रवाई और मुझे छुड़वाने के बजाय होटल मालिक एवं आरोपी को ही शिकायत के बारे में सूचित कर दिया। इस पर आरोपी ने उसे पुलिस के सामने ही पिटाई की और कहा कि पुलिस उसका कुछ नहीं कर सकती क्योंकि उनके पास हर माह मंथली जाती है। युवती ने सांसद को लिखे पत्र में कहा कि अब उसकी आखिरी उम्मीद आप ही हो।

हिम्मत करके सामने आए पीड़िता : सैनी
कैथल पहुंचे सांसद राजकुमार सैनी ने लोकनिर्माण विश्रामगृह में पत्रकारों से बातचीत में पीड़ित युवती से मीडिया के माध्यम से अपील की कि वह हिम्मत करके सामने आए और सीधे उनसे सम्पर्क करे। वह बेटी को पूरा इंसाफ दिलवाएंगे। सांसद ने कहा कि सरकार ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ का प्रयास कर रही है लेकिन कुछ पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी की वजह से ही आज बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। वहीं, सांसद ने कुछ दिन पहले सैन समाज कुरुक्षेत्र धर्मशाला के प्रधान रत्नलाल के साथ मंडी में मारपीट के मामले में पुलिस द्वारा पिटाई करने की निंदा की।

पत्र दिया था एस.पी. को : डी.सी.
सांसद ने प्रैस कान्फ्रैंस से पहले डी.सी. सुनीता वर्मा से इस पत्र के बारे में पूछा तो डी.सी. ने कहा कि उन्हें ऐसी शिकायत मिली थी। वह पत्र उन्होंने लिफाफे में बंद करके एस.पी. सुमेर प्रताप सिंह को भेज दिया था।

जांच सी.आई.ए. को सौंपी : एस.पी.
एस.पी. सुमेर प्रताप सिंह ने कहा कि युवती की शिकायत मिली है और सी.आई.ए. के माध्यम से जांच करवाई जा रही है। वहीं, सैन समाज के प्रधान के साथ हुई मारपीट के मामले में आरोपी ए.एस.आई. कुलविंद्र सिंह व हैड कांस्टेबल सुरेश कुमार को लाइनहाजिर किया गया है और मामले की जांच स्वयं आई.जी. सुभाष यादव कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here