फिर चला ‘गब्बर’ का चाबुक, 5 मिनट में ASI सस्पेंड

0
487

Panipat News :  हरियाणा सरकार द्वारा जिला कष्ट निवारण समितियों के अध्यक्ष बदलने के बाद विज पहली बार यहां अध्यक्ष के रूप में बैठक लेने पहुंचे। बैठक के 5 मिनट में ही दुष्कर्म की जगह गुमशुदगी का मामला दर्ज करने व लड़की को न ढूंढने की शिकायत पर विज ने जांच अधिकारी ए.एस.आई. जोगेंद्र सिंह को सस्पैंड करने के आदेश दे दिए। वहीं, पीड़ित दम्पति ने कहा कि आरोपी यहीं आया हुआ है। इस पर मंत्री और गुस्से में आ गए तथा कहा ‘वैरी बैड’ अभी पकड़ो। इस पर डी.एस.पी. जगदीप दूहन ने पुलिस कर्मचारियों को आरोपी को तुरंत पकडऩे के आदेश दिए तथा एक को काबू कर लिया गया।

दरअसल महिला ने शिकायत दी कि उनकी 14 साल की बेटी 8 माह से लापता है। पुलिस ने 8 लोगों को काबू किया था जिनमें से 6 का पॉलीग्राफ करवाया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि मकान मालिक आरोपियों से मिला हुआ है तथा उसे लड़की के लापता होने के बारे में पता है और वह यहीं आया हुआ है। इस पर मंत्री ने मकान मालिक सादिक को गिरफ्तार करने के आदेश दे दिए, जिसे वहीं काबू कर लिया गया। मंत्री ने कहा कि पीड़ित बोल रहे हैं कि उनकी बेटी के साथ बलात्कार हुआ तो बलात्कार की धारा क्यों नहीं जोड़ी गई। गरीब आदमी रुपए के लिए बेटी बेच दें क्या? गरीब, अनपढ़ आदमी कहां जाएगा। बहुत गलत बात है।

डेरा मामले में सरकार ने सही जांच की
पत्रकारों से बातचीत में विज ने कहा कि डेरा मामले में हरियाणा सरकार ने हाईकोर्ट के निर्देशानुसार सही जांच की है तथा कोई लापरवाही नहीं बरती। वहीं, जी.एस.टी. पर यशवंत सिन्हा के बयान पर कहा कि यशवंत के बेटे जयंत सिन्हा सही बयान दे रहे हैं। जी.एस.टी. से सुधार होगा, लेकिन सुधार में समय लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here