पांच दिवसीय विशाल नि:शुल्क दिव्यांग कल्याण शिविर में कुल 851 दिव्यांगों को उपकरण बांटे गए

0
1183
Faridabad News, 27 Feb 2019 : मानव सेवा से बढक़र कोई सेवा नहीं है और आज दिव्यागों को उपकरण बांटकर उन्हें इतनी खुशी मिली जिसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल है। यह बात लार्सन एण्ड टुब्रो एमएचपीएस बॉयलर प्रा.लि.के डायरेक्टर ए.एस लाम्बा ने माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट फरीदाबाद द्वारा जिला रेडक्रॉस  सोसाइटी एवं समाज कल्याण विभाग फरीदाबाद के साथ मिलकर लार्सन एण्ड टुब्रो ग्रुप के सहयोग सें भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति, जयपुर के  तत्वाधान में लगाए पांच दिवसीय विशाल नि:शुल्क दिव्यांग कल्याण शिविर (जाँच एवं वितरण कैंप) के दौरान बतौर मुख्य अतिथि कही। इस मौके पर उत्तराचंल माहेश्वरी महासभा के उपाध्यक्ष अशोक सोमानी, भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति, जयपुर के एक्सूक्यूटिव प्रैसीडेंट पदमश्री वीरेन्द्र राज मेहता,उद्योगपति एवं समाजसेवी कमल नयन मालू, लार्सन एण्ड टुब्रो के वरिष्ठ अधिकारी प्रशांत, कॉडीनेटर निधि मित्तल, भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति के कैम्प कॉडीनेटर रमेश चन्द्रा, जिला रैडक्रास सोसाईटी के सचिव गौरव रामकरण, माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट के प्रधान प्रमोद माहेश्वरी, सचिव महेश गटटनी, माहेश्वरी मण्डल के अध्यक्ष सुशील नेवर और पूर्व प्रधान ओमप्रकाश पंसारी भी उपस्थित थे। इस अवसर पर ए.एस लाम्बा ने कहा कि भगवान महावीर विकलांग सहायता समिति,जयपुर व माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट दिव्यांगों की नि:स्वार्थ भाव से सेवा कर पुण्य कमाने के साथ साथ मानों ईश्वर का भी आर्शीवाद प्राप्त कर रहा हो। उन्होनें कहा कि शिविर में आर्थिक सहयोग देकर उनकी कपंनी ने भी नेक काम में अपनी आहूति डाली है। इस मौके पर पदमश्री वीरेन्द्र राज मेहता ने कहा कि हमारी समिति लगभग 17 लाख लाभाथियों की फायदा पहुंचाया है और वो भी बिल्कुल निशुल्क। उन्होनें कहा कि हमारा मानना है कि जो पहले से ही दुखी है उसे और क्यों दुख पहुंचाए ब्लकि उसके दुखों का अंत कर सकें। श्री मेहता ने कहा कि पूरे देश में हमारे ऐसे 23 कैम्प चल रहे है जोकि कश्मीर से कन्या कुमारी तक फैले हुए है। उन्होनें कहा कि भारत सरकार ने हमें आदेश दिया था कि देश के साथ साथ विदेशों के लोगों भी इसका लाभ पहुंचाया जाए। उन्होनें कहा कि उपकरण बनाने में हम नई तकनीक का इस्तेमाल कर रहे है जिसमें दिव्यांग ना केवल चल फिर सकता है ब्लकि दौड़ सकता है,कार व बाईक भी जला सकता है। इस अवसर पर अशोक सोमानी ने कहा कि समाजसेवा का काम हमेशा आपसी सहयोग से किया जाता है और यह शिविर इस बात का जीता जागता उदाहरण है जिसमें सैकड़ो दिव्यांगों की समस्या को एक छत से नीचे बखूबी सभी मिलकर हल कर रहे है। इस मौके पर महेश गटटनी ने कहा कि इस पूरे कार्यक्रम की सफलता के लिए सभी सहयोगियों का कोटि कोटि धन्यवाद है। उन्होनें कहा कि माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट समाजसेवा में कभी पीछे नहीं रहा है क्योकि इसके पदाधिकारी से लेकर कार्यकर्ताओं में दूसरों की सेवा करने का जज्बा कूट कूटकर भरा है। उन्होनें कहा कि इस पांच दिवसीय शिविर में कुल 959 दिव्यांगों का पंजीकरण किया गया जिसमें से 230 दिव्यांगों को ट्राई साइकिल-व्हील चेयर्स,361 दिव्यांगों को कैलीपर्स-बेशाखिया को कृत्रिम पैर ( जयपुर फूट ) तथा 260 लोगों को कानों की मशीन का वितरण किया गया। इसके अलावा 86 पंजीकृत दिव्यांगों को 15-20 दिन में उपकरण उपलब्ध करा दिए जाएगें। इस शिविर को सफल बनाने हेतु समाज की सारी टीमो के सदस्य जिनमे गिरधर बिनानी, संजीव महोता, शंकर डूडानी, गुलाब बिहानी, सुशील सोमानी, राकेश सोनी, महेश बिहानी, संदीप कोठारी, विनोद बिहानी कमल आगीवाल, मांगीलाल मुंधडा, श्रवण मिमानी, महाबीर बिहानी, मनीष नेवर,शेलेश मूदड़ा, रेखा राठी, सीमा मूदड़ा, नीतू भूतड़ा एवं अन्य सामाजिक संस्था के लोगों द्वारा विशेष योगदान दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here