श्री बाबोसा भगवान मिंगसर महोत्सव में अनूठा दरबार

0
389
Spread the love
Spread the love

नई दिल्लीः– श्री बालाजी बाबोसा भगवान का वार्षिक  उत्सव जो कि पूरे विश्व में मिंगसर महोत्सव के नाम से विख्यात है। इस बार 16 व 17 दिसम्बर को दिल्ली के मनाया जाएगा। मुख्य कार्यक्रम रोहिणी के जापानी पार्क में जेएमडी टेंट में निर्धारित किया गया है। इस कार्यक्रम का एक मुख्य आकर्षण है 100 फुट उंचा ट्विन टावर नुमा दरबार। इस दरबार में श्री बालाजी बाबोसा भगवान की प्रतिमा विराजित भी जाएगी। ट्विन टावर का निर्माण अंतिम चरण में है। इसके निर्माण को देखने के लिए दूर दूर से लोग आ रहे हैं। यह अपने आप में एक अद्भुत दरबार होगा।

श्री बाबोसा भक्त मंडल हमेशा ही इस प्रकार के विश्व विख्यात धरोहरों पर आधारित दरबार सजाते रहते है। इन्होंने कभी कृत्रिम लहरों के बीच विषालकाय क्रुज का निर्माण किया तो कभी कृत्रिम एयरपोर्ट बना कर उसपर हू-ब-हू एरोप्लेन की आकृति बनाई। विशेष बात यह है कि क्रूज और एरोप्लेन उसी डाइमेंशन में बनाए गए थे, जो कि उनका वास्तविक आकार होता है। जब मंगलयान लांच किया गया था तो संस्था द्वारा जापानी पार्क में ही मंगलयान का हू-ब-हू स्वरूप बनाया गया था। इसके अतिरिक्त दिल्ली मेट्रो इंडिया गेट नुमा दरबार भी सजाया गया है।

इसी श्रृंखला में इस बार अमेरिका के विख्यात ट्विन टावर की शक्ल का दरबार बनाया जा रहा है। बाबोसा भक्त मंडल के युवा हमेशा कुछ ना कुछ नया प्रस्तुत कर सभी को आश्चर्यचकित कर देते है। 16 दिसम्बर की शाम 7 बजे विशाल भजन संध्या आयोजित की जाएगी। जिसमें देश के सुप्रसिद्ध भजन गायकों द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी। इस कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष माननीय श्री ओम बिडला जी की मुख्य अतिथि के रूप में गरिमामयी उपस्थिति होगी। आगामी 17 दिसंबर को सेक्टर 24 रोहिणी में श्री बालाजी बाबोसा मंदिर प्रांगण में  प्रातः  महापंचमी पूजन किया जाएगा। इन कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए देश के कोने कोने से भक्तों के आने का सिलसिला प्रारंभ हो गया है। बाहर से आने वाले भक्तों के ठहरने के लिए व्यापक आवास व्यवस्था की गई है।

ये सभी कार्यक्रम परम आराधिका मंजू बाईसा के पावन सानिध्य एवं परम श्रद्धेय श्री प्रकाश भाई जी के मार्गदर्शन में आयोजित किए जाएगें। उल्लेखनीय है कि परम आराधिका मंजू बाईसा ने भारत के विभिन्न मंदिरों में श्री बाबोसा भगवान एवं सनातन धर्म के सभी देवी देवता यथाः शिव परिवार, लक्ष्मी जी, गणेश जी, राधा-कृष्ण, माता रानी, राम दरबार, हनुमान जी, विश्वकर्मा भगवान, भैरों बाबा,तिरुपति बालाजी, खाटू श्याम जी, रामदेव जी, शनिदेव इत्यादि की लगभग 6600 मूर्तियां अपने हाथों से प्राण प्रतिष्ठा की है। इसके साथ ही उन्होंने भारत के विभिन्न शहरों में श्री बाबोसा भगवान के लगभग 145 मंदिरों का निर्माण करवा कर उनका लोकार्पण किया है।

परम आराधिका मंजू बाईसा की यह विशेषता है कि वह कभी भी किसी भी भक्त से नगद राशि या किसी प्रकार का उपहार नहीं लेती है। मानव कल्याण हेतु जन जन तक श्री बाबोसा भगवान की कृपा पहुंचाने हेतु वह पूरे भारत वर्ष का भ्रमण करती है। वह भक्तों की समस्या का निशुल्क समाधान प्रस्तुत करती है। इस समय उनकी देखरेख में एक अभियान हर हर बाबोसा घर घर बाबोसा चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत भक्तों के घरों, ऑफिस, दुकानों आदि में श्री बाबोसा भगवान की 3 फुट उंची प्रतिमाएं लगाई जा रही है।

परम आराधिका मंजू बाईसा के निर्देशन में हजारों युवा भक्त इन कार्यक्रमों से जुड गए है। बाईसा उन्हें प्रभु भक्ति के साथ साथ राष्ट्रभक्ति के लिए भी प्रेरित करती रहती है। मंडल की तरफ से सभी लोगों को इन कार्यक्रमों में सपरिवार पधारने का निवेदन किया गया है। इस कार्यक्रम के पश्चात विशाल भंडारे का आयोजन भी किया जाएगा। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण 16 दिसम्बर की शाम 7 बजे संस्कार चैनल व 17 दिसंबर को प्रातः 10 बजे से दिव्य चैनल, मंजू बाईसा फेसबुक पेज एवं बाबोसा ब्लेसिंग्स यू-ट्यूब चैनल पर किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here