मोटिवेशनल स्पीकर बन संवारे करियर : हरीश शर्मा

0
230
Spread the love
Spread the love

New Delhi : कई बार किसी की बोली बात जिंदगी में लंबे अरसे तक हमें प्रेरित करती रहती है, जिससे प्रेरित होकर हम अपने मुश्किल समय का सामना आसानी से कर लेते हैं. अगर आप में यह हुनर है तो आप बन सकते हैं मोटिवेशनल स्पीकर हरीश शर्मा बताते है कि कई बार किसी की बोली बात जिंदगी में लंबे अरसे तक हमें प्रेरित करती रहती है, जिससे प्रेरित होकर हम अपने मुश्किल समय का सामना आसानी से कर लेते हैं. अगर आप में यह हुनर है तो आप बन सकते हैं मोटिवेशनल स्पीकर। इस पेशे की अनेक खूबियों में एक यह है कि इसमें एक जगह बैठ कर काम करने की बंदिश नहीं है, वहीं दूसरी ओर की गई मेहनत का रिटर्न भी आकर्षक होता है  जीवन में मोटिवेशन के होने से जिंदगी जीने का मकसद पता चलता है। तमाम परेशानियों के बावजूद आप हसल करते हुए अपनी मंज़िल पर पहुँचते हैं तो कहीं-कहीं कोई न कोई मोटिवेशन ज़रूर होती है। वहीं अगर आप कभी किसी परेशानी को लेकर डाउट में होते हैं तो किसी भी मोटिवेशनल स्पीकर की वीडियो या क्वोट पढ़कर आप मोटिवेशन से भर जाते हैं।

मोटिवेशनल स्पीकर कौन होते हैं?

मोटिवेशनल स्पीकर वह होते हैं जो लोगों को खुद को आगे बढ़ने के लिए मोटीवेट और सहायता करते हैं। मोटिवेशनल स्पीकर अपने क्षेत्र/विषय में एक्सपर्ट्स और प्रोफेशनल्स होते हैं जो कुछ सलाह और गाइडलाइन्स भी प्रदान करते हैं। वे लोगों की स्थिति को एक अलग नज़रिए से देखने में मदद करते हैं और उन्हें अपने टैलेंट, क्षमताओं और जूनून की याद दिलाते हैं।

कैसे करते हैं काम:-

मोटिवेशनल स्पीकर्स कुछ भी शुरू करने से पहले लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचते हैं । इसके बाद ही वे उन्हें प्रेरित करने की शुरुआत करते है, इसके लिए आपको अच्छे-खासे होमवर्क की जरूरत पड़ती है. बातें करने के लिए आपके पास जानकारी का खजाना होना चाहिए, इसके लिए आपको समाज, स्थान और देश-प्रदेश के लोगों के कल्चर, लाइफ स्टाइल आदि के बारे में जानकारी रखनी होगी ।

कोर्सेज:-

कुछ मैनेजमेंट स्कूल्स में स्पीकिंग पावर पर काम करवाया जाता है, यह ऐसी फील्ड है, जिसमें आप कई क्षेत्रों के लोगों को अपनी सेवाएं दे सकते हैं, इसलिए आप अपनी तैयारी के रूप में जितने ज्यादा क्षेत्रों के बारे में संभव हो, अपनी जानकारी बढ़ाएं, तभी तो आप उन लोगों को आगे बढ़ने, पैसे कमाने और नैतिक रूप से सफल होने के लिए प्रेरित कर सकेंगे ।

अवसर:-

आजकल बहुत सी कंपनियां, एजेंसियां, एनजीओ, मैनेजमेंट सहित अन्य दूसरे स्कूल-कॉलेज मोटिवेशनल स्पीकर को नियुक्त करने लगे हैं । इसके अलावा कुछ खास कार्यक्रमों में भी मोटिवेशनल स्पीकर्स को आंमत्रित किया जाता है ।

योग्यता:-

आपकी बातों में नयापन होना बेहद जरूरी है, तभी लोग भी आपको सुनेंगे। मोटिवेशनल स्पीकर में उत्साह, विश्वसनीयता, आत्मविश्वास जैसे गुण भरे हुए होने चाहिए। इसके लिए फिलॉसफी से लेकर लिटरेचर तक हर तरह की किताबें पढ़नी चाहिए, करंट अफेयर्स से भी खुद को अपडेट रखना चाहिए। मोटिवेशनल स्पीकर बनने के यह भी जरूरी है कि आप एक सामाजिक व्यक्ति हों ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here