कैशलेस स्वास्थ्य सेवाओं के लिए जे.सी. बोस विश्वविद्यालय और मेट्रो अस्पताल के बीच समझौता

0
160
Spread the love
Spread the love

फरीदाबाद, 27 सितंबर – कर्मचारियों और छात्रों को बेहतर स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं देने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद ने मेट्रो हार्ट इंस्टीट्यूट, फरीदाबाद के साथ समझौता किया है। इस समझौते के अंतर्गत विश्वविद्यालय के पात्र नियमित कर्मचारियों और उनके आश्रितों को कैशलेस इन-पेशेंट (आईपीडी) उपचार एवं स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं देने तथा विद्यार्थियों एवं अनुबंधित कर्मचारियों को रियायती दरों पर स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं देने का प्रावधान किया गया हैं।

समझौते के उपरांत अब विश्वविद्यालय के पात्र नियमित कर्मचारी मैट्रो अस्पताल में आकस्मिक वित्तीय चिंताओं के बिना गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा, कर्मचारियों को ओपीडी सेवाओं का लाभ हरियाणा सरकार की प्रतिपूर्ति नीति के अनुरूप रियायती दरों पर उपलब्ध होंगा। सरकार की प्रतिपूर्ति नीति के तहत कवर न होने वाले अनुबंधित कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ रियायती दरों पर मिलेंगा।

समझौते पर विश्वविद्यालय की ओर से जे.सी. बोस विश्वविद्यालय की कुलसचिव डॉ. मेहा शर्मा और मेट्रो हार्ट इंस्टीट्यूट की ओर से उप महाप्रबंधक (सेल्स एवं मार्केटिंग) बिक्रम सिंह चौहान ने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सुशील कुमार तोमर की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए। इस दौरान विश्वविद्यालय में निदेशक (आरएंडडी) डॉ. मनीषा गर्ग, चिकित्सा अधिकारी डॉ. अंकुर शर्मा और सहभागिता एवं उद्योग संपर्क मामलों की प्रभारी डॉ. रश्मी पोपली भी उपस्थित थीं।

इस अवसर पर बोलते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सुशील कुमार तोमर ने कहा कि कर्मचारियों और विद्यार्थियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करना विश्वविद्यालय की प्राथमिकता है। मेट्रो इंस्टीट्यूट के साथ समझौता न केवल उन्हें सुविधाजनक स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं का विकल्प प्रदान करेगा बल्कि यह भी सुनिश्चित करेगा कि जरूरत पड़ने पर उन्हें बेहतर चिकित्सा सुविधाएं प्राप्त हो।

चिकित्सा अधिकारी डॉ. अंकुर शर्मा ने बताया कि मेट्रो इंस्टीट्यूट समय-समय पर विश्वविद्यालय परिसर में स्वास्थ्य जांच शिविर और स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करेगा। इसके अलावा, मेट्रो इंस्टीट्यूट विश्वविद्यालय के शिक्षकों तथा शोधार्थियों को उनकी अनुसंधान-संबंधित गतिविधियों में भी सहयोग देगा। इस अवसर पर मेट्रो इंस्टीट्यूट की सेल्स और मार्केटिंग टीम से उप प्रबंधक विशाल सिंह, उप प्रबंधक पुनीत शर्मा, सहायक प्रबंधक अनुज तोमर और सहायक प्रबंधक देवांशु कोचर भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here