अस्पताल कमरे की बिजली गुल, लिफ्ट न चलने पर बिफरे अवतार भडाना

0
942

Faridabad News : पत्रकार पर हुए जानलेवा हमले से आहत उत्तर प्रदेश की मीरापुर विधानसभा से भाजपा विधायक एवं भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य अवतार सिंह भडाना आज उस समय बीके अस्पताल प्रशासन पर बिफर पडे जब उन्होंने देखा कि अस्पताल में जहां लिफ्ट ही बंद पडी है वहीं अस्पताल के उस कमरे में बिजली ही नहीं है जहां घायल पत्रकार को इलाज के लिए बैड पर रखा गया है। श्री भडाना अस्पताल प्रशासन पर बिफर पडे और उन्होंने डयूटी पर तैनात डाक्टर को बुलाया लेकिन वहां पर डाक्टर, आरएमओ, पीएमओ व सीमओ तक कोई भी मौजूद नहीं था। इस दौरान विधायक भडाना की आंखों में आंसू आ गए और वह पत्रकारों के समक्ष रो पडे।

श्री भडाना अस्पताल में बैठे रहे और करीब आधे घंटे के बाद डयूटी पर मौजूद डाक्टर आए और उन्होंने कहा कि वह अभी पीएमओ व सीएमओ को सूचना देते हैं। लेकिन एक घंटे तक भी पीएमओ व सीएमओ अस्पताल में नहीं पहुंचे जिससे पूर्व सांसद एवं भाजपा के राष्ट्रीय नेता अवतार भडाना गुस्से में आ गए और उन्होंने साफ कह दिया कि वह जबतक यहां से नहीं जाएंगे जबतक सीएमओ व पीएमओ यहां नहीं आते। श्री भडाना अंधेरे कमरे में मोबाईल फोन की लाईट जलाकर घायल मरीज के साथ बैठे रहे। काफी देर तक सीएमओ के मौके पर नहीं पहुंचने पर श्री भडाना ने हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को मौके पर ही फोन किया तथा सारी स्थिति से अवगत कराते हुए आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही कर ने की बात कही जिसपर श्री बिज ने कहा कि अस्पताल में अवयवस्था सहन नहीं की जाएगी और इसमें जो भी दोषी है उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

उसके बाद करीब डेढ घंटे के बाद अस्पताल के पीएमओ अस्पताल में आए और श्री भडाना को आश्वासत किया कि घायल पत्रकार को दूसरे कमरे में सिफ्ट कर दिया जाएगा। पूर्व सांसद श्री भडाना ने इस मौके पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि आज वह बडे दुखी हैं कि पता नहीं उनके इस फरीदाबाद को किसकी नजर लग गई है कि रोजाना यहां कोई न कोई ऐसी बडी घटना घट रही है जिससे दिल दहल जाता है। पलवली में एक ही परिवार के पांच लोगों को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी जाती है वहीं अनंगपुर में नाबालिग लडकी का बेरहमी से बलात्कार जैसी शर्मानाक घटना को अंजाम दिया जाता है और आज पटाखा चलाने की मना करने पर लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पत्रकार व उसकी पत्नी पर जानलेवा हमला किया जाता है वहीं आज ही गुडों द्वारा पुलिसकर्मियों व डाक्टर पर भी हमला कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वह इस बात से चिंतित हैं कि बाबा फरीद की नगरी फरीदाबाद अब अपराधियों की नगरी बना दिया है। उन्होंने कहा कि वह इस मामले को लेकर वह मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बात करेंगे तथा उनसे कहेंगे कि वह लगाएं ऐसे अपराधियों को कौन संरक्षण दे रहा है क्योंकि लगातर हो रही ऐसी घटनाओं से पार्टी को नुकसान हो सकता है।

आखिर मामा है कौन:
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल समूचे प्रदेश में समान विकास व न्याय की प्रक्रिया को बढावा देकर आमजन को लाभ देने का कार्य कर रहे हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों से केवल फरीदाबाद में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब हुई है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद की जनता के साथ उनका दिली रिश्ता है तथा सदां इस क्षेत्र से शांति की मिशाल दी है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से उनके संज्ञान में आया है कि कोई मामा नाम का व्यक्ति अपराधियों को संरक्षण दे रहा है। उन्होंने कहा कि आखिर यह मामा नाम का व्यक्ति है कौन? पुलिस व जिला प्रशासन इस मामा का पता लगाकर तुरन्त मुख्यमंत्री के संज्ञान में लाए क्योंकि मुख्यमंत्री प्रदेश में हित में कार्यरत है। श्री भडाना ने साफ कहा कि अगर इस मामले में पत्रकार को न्याय नहीं मिला और मामा नाम के व्यक्ति का पता नहीं लगाया गया तो वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित साह व भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में रखेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here