महाकाली मंदिर में की गई मां कालरात्रि की पूजा अर्चना

0
600

Faridabad News, 12 April 2019 : एनएच-5ए ब्लॉक स्थित महाकाली मंदिर में नवरात्रों के अवसर मां कालरात्रि की पूजा अर्चना की। इस पूजा मेें ब्लॉक की महिलाओं व बच्चों ने बढ़ चढक़र भाग लिया और माता रानी की भेंट गाकर पूरे वातावरण को भक्तिमय बना दिया। इस मौके पर मंदिर के प्रधान सुशील बाली, पंडित सुरेश कौशिक, महिला प्रधान रीटा नवजीवन गौसांई, श्रीमति रीटा अरोड़ा, बब्बर परिवार, कपूर परिवार, कोहली परिवार व तलवार परिवार मुख्य रूप से उपस्थित थे। इस अवसर पर प्रधान सुशील बाली ने कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी मंदिर में नवरात्रों का पावन पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। उन्होने कहा कि नवरात्रि के 7वें दिन मां दुर्गा के कालरात्रि रूप की पूजा की जाती है। मां कालरात्रि अपने भक्तों सारे भय हर लेती हैं। काल का नाश करने वाली मां कालरात्रि की पूजा करने से जीवन की सभी समस्याओं को हल करने की शक्ति मिलती है। इनका एक नाम शुभंकारी भी है। इस दिन साधक को अपना चित्त भानु चक्र में स्थिर कर साधना करनी चाहिए।

मां दुर्गा के कालरात्रि रूप का अवतार असुरों के राजा रक्तबीज का वध करने के लिए हुआ था। इनकी पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। मां कालरात्रि का स्वरूप अत्यंत भयानक है, मगर वह सदैव अपने भक्तों को शुभ फल प्रदान करती हैं। कालरात्रि माता का स्मरण करने से दानव, दैत्य, राक्षस, भूत-प्रेत आदि डरकर भाग जाते हैं। दुष्टों का नाश करने वाली मां कालरात्रि ग्रह बाधाओं को भी दूर करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here