पांच राज्यों में प्रस्तावित विधानसभा चुनावों में रूझान कांग्रेस के पक्ष में आएंगे : अशोक तंवर

0
372
Sirsa News, 24 Nov 2018 : हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि 5 नगर निगम और दो नगरपालिकाओं के चुनाव सत्तापक्ष और विपक्ष दोनोंं के लिए परीक्षा की तरह हैं। इन चुनावों के परिणामों के जरिए जनता के मूड का पता चलेगा जिसका असर अगले साल होने वाले लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों में निश्चित रूप से पड़ेगा। डॉ. तंवर आज केरा रिसॉर्ट में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि अधिकांश पदाधिकारी और कार्यकर्ता चाहते हैं कि कांग्रेस अपने सिंबल पर नगर निगम चुनावों में अपने उम्मीदवार उतारे। ऐसे में सभी से राय मशविरा करके इस संदर्भ में जल्द निर्णय कर लिया जाएगा।
तंवर ने कहा कि उनकी व्यक्तिगत इच्छा है कि वे विधानसभा का चुनाव लड़ें लेकिन यदि लोकसभा चुनाव पहले हुए तो वे अपनी कर्मभूमि सिरसा लोकसभा से ही अपना चुनाव लडऩा चाहेंगे। हरियाणा की बीजेपी सरकार पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि यह सरकार किसान विरोधी है। आज तक किसानों को उनका मुआवजा नहीं मिला और न ही खराब हुई उपज की गिरदावरी ही की गई है। बुआई का सीजन होने के बावजूद किसानों पर मुकदमे दर्ज करके उन्हें परेशान किया जा रहा है। कई गांवों में रंजिशन सरपंचों को बर्खास्त किया जा रहा है। यूरिया की कमी के चलते हरियाणा के किसानों को पंजाब से महंगे दामों पर यूरिया खरीदनी पड़ रही है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का दिवाला निकला हुआ है। गैंगरेप और मर्डर जैसी घटनाएं आम हो गई हैं। कल रोहतक और आज अंबाला में हुई हत्याओं से पूरा प्रदेश सकते में है। प्रदेश की जनता असुरक्षित महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि या तो इनेलो के शासन में ऐसा जंगलराज था या अब बीजेपी के शासन में। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की हरियाणा में सक्रियता के संबंध में उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने अन्ना हजारे और लोकपाल के बहाने दिल्ली की सत्ता हथिया ली। अब वे लोकपाल और अन्ना दोनों को भूल गए।
केंद्र सरकार का जिक्र करते हुए अशोक तंवर ने कहा कि पूरे देश में पांच अलग अलग राज्यों में प्रस्तावित विधानसभा चुनावों में रूझान कांग्रेस के पक्ष में आएंगे। इस सरकार ने आरबीआई बनाम वित्त मंत्रालय, सीबीआई बनाम सीबीआई करके छोड़ दिया है। संवैधानिक संस्थाओं को नियंत्रित करने की कोशिश की जा रही है। गीता जयंती, योग दिवस, सरस्वती महोत्सव जैसे आयोजन के माध्यम से भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ. तंवर ने कहा कि राम मंदिर, सबरीमाला जैसे मामलों में यह सरकार सुप्रीम कोर्ट के विरूद्ध खड़ी हो गई है। जींद उपचुनाव के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से दलील दी जा रही है कि एक साल से कम समय बचा है इसलिए चुनाव साथ करवाए जाएं मगर कर्नाटक में हुए निर्णय को दरकिनार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अभूतपूर्व जनादेश के साथ सरकार बनाएगी। पांच राज्यों में होने वाले चुनावों के बाद पूरी कांग्रेस एक मंच पर दिखाई देगी। कांग्रेस पार्टी में किसी तरह की कलह नहीं है बल्कि सब लोग निष्ठापूर्वक अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैंं।
इस अवसर पर उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश केहरवाला, आनंद बियाणी, नवीन केडिया, कुलदीप गदराना, अमित सोनी, रमन सर्राफ, कर्मचंद शर्मा, राजेश खत्री, कपिल सरावगी सहित अनेक पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here