कैबिनेट मंत्री ने मंदिरों के लिए दी 11 लाख की राशि

0
58

Faridabad News, 18 Nov 2019 : हरियाणा के कैबिनेट मंत्री पं. मूलचंद शर्मा ने कहा है कि मोदी-मनोहर के नेतृत्व में देश व प्रदेश उन्नति के नए शिखर पर पहुंच रहा है। हरियाणा में भी मनोहर सरकार के नेतृत्व में प्रदेश का चहुंमुखी विकास हो रहा है। हरियाणवीं एक-हरियाणा एक की नीति के तहत मुख्यमंत्री हर वर्ग का समान विकास कर रहे है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में भी विकास का सिलसिला जोरों पर चल रहा है और यहां लोगों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सरकार युद्धस्तर पर कार्य कर रही है। मूलचंद शर्मा रविवार देर सायं अपने विधानसभा क्षेत्र बल्लभगढ़ के सेक्टर-23 स्थित हनुमान मंदिर में नवनिर्मित हाल का उद्घाटन करने के उपरांत उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनता के आर्शीवाद से वह बल्लभगढ़ से दूसरी बार रिकार्ड मतों से जीते और सरकार ने उन्हें कैबिनेट मंत्री की जो जिम्मेदारी दी है, उसके माध्यम से वह जनता से किए अपने हर वायदे को पूरा करने का काम करेंगे। इसके उपरांत कैबिनेट मंत्री पं. मूलचंद शर्मा मुजेसर स्थित बाबा हृदयराम मंदिर में जाकर लोगों से रुबरु हुए और उनका आभार जताया। उन्होंने कहा कि बल्लभगढ़ का संपूर्ण विकास करवाना उनकी प्राथमिकता में शुमार है और यहां लोगों को बेहतर स़ुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए वह हर स्तर पर कार्य करेंगे वहीं अधिकारियों को भी उन्होंने सख्त लहजे में चेता दिया कि वह जनता से जुड़ी कोई भी समस्या तत्परता से लें और उसे समय पर दूर करने का काम करें। इस अवसर पर सुभाष लाम्बा मुजेसर, रातिल खटाना, पूर्व पार्षद धर्मबीर खटाना, नरेंद्र भाटिया, प्रमोद गिल, दीपांशु अरोड़ा, अनुराग गर्ग, कर्मचंद शर्मा, बलवीर लाम्बा,रतन लाम्बा, धर्मवीर गोदारा, सुरेंद्र लाम्बा, अखिलेश परसवाल व राजेंद्र गोदारा सहित अनेकों लोगों ने फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री पं. मूलचंद शर्मा ने हनुमान मंदिर सेक्टर-23 और बाबा हृदयराम मंदिर के लिए 11-11 लाख रुपये देने की घोषणा की, जिस पर सुभाष लाम्बा मुजेसर ने मंत्री मूलचंद शर्मा का आभार जताया और उनके समक्ष गांव की कुछ समस्याएं भी रखी, जिन्हें मंत्री श्री शर्मा ने मौके पर ही संबंधित अधिकारियों को सभी समस्याओं का समाधान करने का निर्देश दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here