डीएवी शताब्दी कॉलेज में ड्रग्स के खिलाफ जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

0
37

Faridabad News, 02 Nov 2019 : हरियाणा दिवस के मौके पर जिला रेडक्रास सोसायटी द्वारा एनएच-3 स्थित डीएवी शताब्दी कालेज में ड्रग्स के खिलाफ जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर मुख्यातिथि रेडक्रास की कार्यकारी सदस्या सुषमा गुप्ता थीं जबकि कालेज के प्राचार्य डा. सतीश आहुजा, जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार, सीनियर प्रोग्राम अधिकारी रविंद्र कुमार, डा. एम.पी. सिंह, एडवोकेट रंजना शर्मा, बिजेंद्र गौर, पुरुषोत्तम सैनी, जतिन व विजयवंती विशेष रूप से मौजूद रहे।

इस मौके पर छात्र-छाओं को नशे के प्रति जागरूक करते हुए मुख्यातिथि सुषमा गुप्ता ने कहा कि नशीली दवाओं का सबसे बड़ा दुष्प्रभाव मस्तिष्क पर पड़ता है, जिसके परिणामस्वरूप दवाओं के आदी व्यक्ति के जीवन का हर पहलू प्रभावित हो जाता है। ड्रग्स मुख्य रूप से रसायनिक पदार्थ होते हैं, जो मानव मस्तिष्क की संचार प्रणाली को प्रभावित करता हैं। यह पदार्थ तंत्रिकाओं द्वारा मस्तिष्क को भेजी गयी प्रक्रियाओं और जानकारियों को प्रभावित करते हैं। यह नशीली दवायें मानव मस्तिष्क में संचार के लिये कार्य करने वाले प्राकृतिक रासायनिक तत्वों की एक कॉपी तैयार करती हैं जो मस्तिष्क की प्रतिक्रिया परिपथ को अधिक उत्तेजित कर देती हैं। रासायनिक संदेश वाहक के रूप में हेरोइन और भांग को इसी प्रकार से बनाया जाता है, जिसे न्यूरोट्रांसमीटर के रूप में जाना जाता है। नशे के चलते मानव का जीवन बर्बाद हो जाता है। इसके लिए सभी को नशे से बचना चाहिए और अपने आसपास के लोग जो नशे की लत के शिकार हैं उन्हें भी इससे छुटकारा दिलाने का प्रयास करना चाहिए।

वहीं रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार ने कहा कि हरियाणा सरकार ने नशीली दवाओं का सेवन रोकने के उद्देश्य से ‘शराब और पदार्थ (ड्रग) दुरुपयोग की रोकथाम के लिए सहायता के केंद्रीय क्षेत्र योजना’ नामक एक योजना लागू की है। इस योजना के तहत, योग्य गैर सरकारी संगठनों, पंचायती राज संस्थानों और शहरी स्थानीय निकायों को सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता प्रदान की गई है, जो बदले में नशे की पुनर्वासन के लिए संपूर्ण सेवाएं प्रदान करती है, जो भी व्यक्ति नशे का आदी हो उसे इन संस्थाओं के जरिये नशे से मुक्ति दिलाई जा सकती है।

इस मौके पर डा. एम.पी. सिंह ने विद्यार्थियों को नशे के प्रति सचेत करते हुए कहा कि नशे का सेवन करने से जहां शरीर दुर्बल व निस्तेज हो जाता है वहीं वह परिवार भी बर्बादी की कगार पर आ जाता है। इसलिए सभी को नशे से दूर रहना चाहि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here