इंश्योरेंसदेखो ने सीरीज बी फंडिंग में 60 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई, एक साल में कुल फंडिंग 200 मिलियन डॉलर के पार

0
126
Spread the love
Spread the love

11 अक्टूबर 2023: भारत की अग्रणी इंश्योरटेक कंपनी, इंश्योरेंसदेखो ने अपने मौजूदा सीरीज बी फंडिंग राउंड में 60 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई है। यह कंपनी के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। हाल में जुटाई गई पूंजी में इक्विटी और डेट दोनों ही विकल्प शामिल हैं और कंपनी मौजूदा निवेशकों का भरोसा बनाए रखने के साथ ही इस दौर में नए प्रमुख निवेशकों को अपने साथ जोड़ने में कामयाब रही है। 2023 में गुरुग्राम में शुरू हुए इस स्टार्टअप के लिए यह दूसरा फंडिंग राउंड है। इसके साथ ही कंपनी अब तक कुल 200 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटा चुकी है, जिससे अग्रणी भारतीय इंश्योरटेक के रूप में इसकी स्थिति और मजबूत हो गई है।

जापानी दिग्गज मित्सुबिशी यूएफजे फाइनेंशियल ग्रुप, इंक. (“एमयूएफजी”), यूरोपीय निवेश प्रमुख यूराजियो प्रबंधित अपने इंश्योरटेक फंड के माध्यम से बीएनपी परिबास कार्डिफ, भारत-केंद्रित बीम्स फिनटेक फंड और योगेश महनसरिया फैमिली ऑफिस नए निवेशकों के रूप में इसमें शामिल हुए हैं। इंश्योरेंसदेखो के मौजूदा निवेशकों टीवीएस कैपिटल, गोल्डमैन सैक्स एसेट मैनेजमेंट और अवतार वेंचर्स ने भी निवेश करते हुए कंपनी ने अपने भरोसे का प्रदर्शन किया है। फरवरी में, इंश्योरेंसदेखो ने सीरीज ए फंडिंग में 150 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाई थी, जो दक्षिण एशिया में किसी इंश्योरटेक द्वारा जुटाई गई सबसे बड़ी रकम थी।

एक साल में 200 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटाकर, इंश्योरेंसदेखो न केवल अग्रणी भारतीय इंश्योरटेक के रूप में उभरा है; बल्कि उन कुछ स्टार्टअप की सूची में शामिल हो गई है, जो एक ही वर्ष में बड़ी सीरीज ए और बी फंडिंग जुटाने में सफल रहे हैं। फंडिंग की कमी को देखते हुए यह एक बड़ी उपलब्धता है। यह विशेष फंडिंग इंश्योरेंसदेखो के हर भारतीय का बीमा करने के नजरिए और उनके मजबूत बिजनेस मॉडल की मिसाल है।

इस फंडिंग राउंड से जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल अपनी मार्केटिंग गतिविधियों को बढ़ाने, भारत के भीतरी इलाकों में अपनी वितरण उपस्थिति को और विस्तारित करने, अपने तकनीकी प्लेटफॉर्म को बढ़ाने, इन-ऑर्गेनिक विकास के अवसरों का पता लगाने के साथ रिइंश्योरेंस जैसी नई पहल को आगे बढ़ाने में किया जाएगा, ताकि भारत में बीमा क्षेत्र का लोकतांत्रिकरण और उसमें क्रांतिकारी बदलाव लाया जा सके।

इंश्योरेंसदेखो के सीईओ और संस्थापक अंकित अग्रवाल ने कहा, “हमारा नजरिया और क्षमता पर भरोसा करने के लिए हम अपने निवेशकों का आभार व्यक्त करते हैं। हमारा मकसद हमेशा से सभी भारतीयों के लिए बीमा को सुलभ और यूजर के अनुकूल बनाना रहा है। यह फंडिंग हमारी इन कोशिशों में तेजी लाने, अधिक ग्राहकों तक पहुंचने और इंश्योरटेक क्षेत्र में और कुछ नया करने में मदद करेगा। भारत में बीमा क्षेत्र तकनीक-समर्थित क्रांति की ऊंचाई पर है और मेरा मानना है कि इंश्योरेंसदेखो इस बदलावन का नेतृत्व करने की स्थिति में खड़ा है।”

अंकित अग्रवाल और ईश बब्बर ने 2017 में इस स्टार्टअप की शुरुआत की थी। अपनी स्थापना के बाद से इसकी विकास यात्रा शानदार रही है। कंपनी इस वित्त वर्ष में 3,600 करोड़ रुपये की प्रीमियम आय को हासिल करने की राह पर है और मार्च 24 तक इसका अपने प्लेटफॉर्म पर 2,00,000 एजेंट पार्टनर जोड़ने का लक्ष्य है। फिलहाल इंश्योरेंसदेखो 1500 से अधिक क्षेत्रों में मौजूद होते हुए देश भर के 98% पिन कोड को कवर करता है। इसे टियर 2 और उससे आगे के क्षेत्रों से 90% से अधिक प्रीमियम मिलता है। इंश्योरेंसदेखो ने अब तक 6 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवा दी है और वर्तमान में यह हर मिनट 12¹ भारतीयों का बीमा कर रहा है।

कारदेखो ग्रुप के सीईओ और सह-संस्थापक अमित जैन ने कहा, “इंश्योरेंसदेखो तेजी से विस्तार करते हुए उपलब्धियों को हासिल कर रहा है। जुटाई गई पूंजी इसके विकास को तेजी देगी और एक विश्वसनीय बीमा प्लेटफॉर्म के माध्यम से वंचित बाजारों तक पहुंचने का मौका देगा। यह निवेश कंपनी को देश भर में बीमा पैठ बढ़ाने के अपने दृष्टिकोण के एक कदम और करीब लाता है। बेहतरीन टीम के साथ अंकित और ईश के मजबूत नेतृत्व में, इंश्योरेंसदेखो ने भारत में इंश्योरटेक क्षेत्र में व्यापक बदलाव लाते हुए बेमिसाल सफलता का प्रदर्शन किया है। इंश्योरेंसदेखो तकनीक का लाभ उठाते हुए भारत के बीमा क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव लाना जारी रखेगा ताकि भारत के सभी लोगों के लिए बीमा को सुलभ बनाया जा सके।”

भारत में एमयूएफजी बैंक के डिप्टी सीईओ शशांक जोशी ने कहा, “स्‍थायी और समावेशी भविष्य को बढ़ावा देने के लिए एमयूएफजी की प्रतिबद्धता हमारे निवेश की बुनियाद है। इंश्योरटेक क्षेत्र में हमारा प्रवेश भारत में बीमा पहुंच बढ़ाने की रणनीतिक प्रतिबद्धता से जुड़ा हुआ मामला है। इंश्योरेंसदेखो का तकनीक-संचालित अंतिम उपभोक्ता वितरण मॉडल भारत में बीमा पहुंच को आगे बढ़ाने के हमारे नजरिये के साथ पूरी तरह से मेल खाता है। हम अंकित और ईश के दूरदर्शी नेतृत्व और नए बदलावों को लागू करने की उनकी नजरिये की सराहना करते हैं, जो बीमा मूल्य श्रृंखला में सभी हितधारकों के लिए मूल्यों का निर्माण करता है। कंपनी की विकास यात्रा को आगे बढ़ाने में सहयोग करने के उद्देश्य से, हम साथ मिलकर इंश्योरेंसदेखो के साथ इस यात्रा की शुरुआत कर रहे हैं।”

यूराजियो में वेंचर के मैनेजिंग पार्टनर मैथ्यू बेरेट ने कहा, “बीएनपी परिबास कार्डिफ के साथ भारत में पहले निवेश के तौर पर इंश्योरेंसदेखो में निवेश करते हुए खुशी हो रही है। चीन, इंडोनेशिया और सिंगापुर में अपने निवेश के बाद, हम एशिया में एक अग्रणी खिलाड़ी बनने की महत्वाकांक्षा के साथ अपना विस्तार कर रहे हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here