प्रशासन ने दशहरा मना धार्मिक व सामाजिक संगठनों को दिखाया आईना

0
1186

Faridabad News :  प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि फरीदाबाद के दशहरा मैदान का डेढ़ करोड़ रुपये की लागत से सौंदर्यकरण किया जाएगा। प्रशासन की ओर से इसका एस्टीमेट तैयार कर कर लिया गया है। जिसमें मैदान के चारों ओर स्टेडियम की भांति सीट, रंगीन लाइट और मखमली घास लगाई जाएगी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यह घोषणा शनिवार को जिला प्रशासन की ओर से दशहरा मैदान में आयोजित दशहरा उत्सव-2017 कार्यक्रम के दौरान की। इस दौरान उन्होंने मंच से तीर चलाकर रावण का पुतला दहन भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुनिया में सबसे ज्यादा उत्सव भारत देश में मनाए जाते हैं। ऐसे उत्सवों से देश की एकता और अंखडता की मजबूती की झलक दिखाई पड़ती है। देश के हर भाग में कोई न कोई उत्सव मनाये जाने का कार्यक्रम रहता है। दशहरा पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का उत्सव है। इस पर्व से पूर्व सभी जगहों पर रामलीलाओं का मंचन होता है। जिसमें मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम की लीलाओं का मंचन किया जाता है। अन्याय पर न्याय की विजय के रूप में मनाए जाने वाले इस पर्व पर सभी लोग शांति और सौहार्द बनाए रखने का संकल्प लें।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पहले के मुख्यमंत्रियों ने अपनी ऐसी कठोर छवि बना रखी थी जिनसे आम जनता भयभीत रहती थी उनसे मिलने के लिए पहले लोग 10 बार सोचते थे मगर वह हर व्यक्ति के लिए सहज ही उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा की हरियाणा में मुख्यमंत्रियों ने अब तक सरकारी नौकरियों और जमीनों के सीएलयू के अधिकार अपरोक्ष रूप से अपने नियंत्रण में ले रखे थे। किंतु अब उन्होंने ऐसी प्रभावी प्रणाली विकसित की है, जिससे आम आदमी भी बिना रिश्वत दिए जमीनों के सीएलयू और सरकारी नौकरियों जैसी सुविधाएं आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा फरीदाबाद के विकास के लिए इतना पैसा दिया गया है जितना किसी मुख्यमंत्री ने पिछले 50 सालों में भी फरीदाबाद को नहीं आबंटित किया होगा। यहां तक की समान विकास की अवधारणा के मद्देनजर उन विधानसभा क्षेत्रों में भी राशि बराबर से आबंटित की गई जहां पर विपक्षी दलों के विधायक हैं। किसी भी क्षेत्र के विकास में कोई भेदभाव नहीं किया गया है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर देश में स्वच्छता अभियान की शुरूआत की। हरियाणा ने इस अभियान के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्र को पूरी तरह से शौचमुक्त कर दिया है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि फरीदाबाद के विकास के लिए सन 1949 में बनाए गए फरीदाबाद विकास बोर्ड के चेयरमैन राष्ट्रपति डॉ़ राजेंद्र प्रसाद को बनाया गया था। इसलिए उनके आदर्शों पर चलकर सभी को फरीदाबाद के विकास में सहयोग करना होगा। फरीदाबाद के इस दशहरा आयोजन में पिछले कई सालों से विवाद चला आ रहा है। जिसकी झलक बीते साल देखने को मिली। ऐसे धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रम में राजनीति नहीं होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगे से यह कार्यक्रम डीसी की संरक्षण में होगा। सामाजिक और धार्मिक संस्था के लोग मिलकर पर्व मनाएं।

इस मौके पर केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, उद्योग मंत्री विपुल गोयल, विधायक सीमा त्रिखा, टेकचंद शर्मा, नगेंद्र भड़ाना, चेयरमैन अजय गौड़, सुरेंद्र तेवतिया, धनेश अदलखाए मेयर सुमन बाला, जिला परिषद चेयरमैन विनोद चौधरी, जिला भाजपा अध्यक्ष गोपाल शर्मा, प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता राजीव जेटली, पूर्व विधायक चंदर भाटिया, भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष अनिता शर्मा, स्वामी मुनिराज, पीर जगन्नाथ, वासुदेव सलूजा, राधा नरूला, जोगेन्द्र चावला, आनन्द कांत भाटिया, विनोद मलिक, विशम्बर भाटिया, अतुल त्रिखा, कवंल खत्री, पार्षद जसवंत सिंह, पं. सुरेन्द्र शर्मा, जयपाल शर्मा, केवल राम भाटिया, रामकुमार, हरदयाल मदान, रमन जेटली, मोहन सिंह भाटिया, डी.एन. कथूरिया, संजीव भाटी आदि मौजूद रहे। जिला प्रशासन की ओर से उपायुक्त समीरपाल सरो ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here