बनवाने हैं अपने भी स्कैच? तो, चले आइए आई.आई.टी.एफ़.-2023 में : श्रीनाथ दीक्षित

0
131
Spread the love
Spread the love

नई दिल्ली : इंडिया ट्रेड प्रोमोशन ऑर्गेनाइज़ेशन द्वारा राजधानी दिल्ली का साल का सबसे प्रतीक्षित और प्रतिष्ठित भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला आपको वृहद भारतीय संस्कृतियों और परंपराओं को बख़ूबी जानने और उनसे रूबरू होने का एक सुनहरा अवसर प्रदान करता है। 14 दिन तक चलने वाले इस मेले में देश के विभिन्‍न राज्यों और संप्रदायों के लोग अपनी-अपनी अनूठी परंपराओं और संस्कृतियों को विभिन्‍न माध्यमों से दर्शाते हैं।

ऐसे में सही कहा गया है कि अगर आपको भी विभिन्‍न भारतीय परंपराओं और संस्कृतियों से होना है रूबरू; तो, आप भी इस मेले में एक बार ज़रूर पधारें और हो जाएँ प्रफ़ुल्लित भारत की मनमोहक सांस्कृतिक विरासत को जानकर!

इन दिनों दिल्ली के प्रगति मैदान में लगे इस मेले में आगंतुक भारी मात्रा में मेले का आनंद लेने के लिए अपने परिजनों के साथ पहुँच रहे हैं।

ऐसे में जहाँ एक ओर मेले में विभिन्‍न स्टॉल्स आगंतुकों को अपनी ओर आकर्षित करते नज़र आ रहे हैं; उसी बीच हॉल नंबर – 7 – ए., बी. और सी. में सरस के द्वारा लगे इन स्टॉल्स में से हरियाणा डेमो के नाम से यह स्टॉल आगंतुकों के बीच अपनी एक अलग ही पहचान बनाता नज़र आ रहा है। इस स्टॉल पर आप अपने नाम को एक बेहद ख़ूबसूरत तरीक़े से इन नेमप्लेट्स पर लिखवा सकते हैं और वो भी बहुत ही किफ़ायती दामों में। इसके अलावा इस स्टॉल पर अपने नाम लिखे हुए बिकने वाले की-चेंस भी सभी आगंतुकों के बीच चर्चा के विषय बने हुए हैं।

इसके साथ ही इस मेले में पानीपत से आए यह कलाकार लोगों की पोरट्रे बनाकर मेले में उनके पलों को यादगार बनाने के लिए काफ़ी अच्छा अवसर प्रदान कर रहे हैं।

तो, फिर देर किस बात की? हो जाएँ तैयार और 42वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में आएँ और दें अपने परिजनों को एक यादगार अनुभव!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here