यूथ क्लब से मिलेगी युवाओं के सपनों को नई दिशा : खेलमंत्री संदीप सिंह

0
1155
Spread the love
Spread the love

Chandigarh News, 10 Oct 2020 : हरियाणा के खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह ने कहा कि खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग ने ग्रामीण अंचल में युवाओं के सपनों को नई दिशा के लिए कदम बढ़ाया है। ग्रामीण स्तर पर यूथ क्लब का गठन किया जाएगा, जो सरकारी योजनाओं को कार्यान्वित करने के साथ सामाजिक गतिविधियों में अपना योगदान देंगे। यही नहीं युवाओं को लक्ष्य प्राप्ति में भी यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। खेल विभाग की ओर से यूथ क्लब का मसौदा तैयार कर लिया गया है, जल्द ही गांवों में इसके गठन की प्रक्रिया शुरू होगी।

खेलमंत्री संदीप सिंह ने बातचीत करते हुए कहा कि ग्रामीण अंचल में युवाओं को उनके मुकाम तक पहुंचाने तथा योजनाओं को क्रियान्वयन करने के लिए यूथ क्लब अहम भूमिका निभाएंगे। यूथ क्लब के जरिये न केवल जन-जन तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचेगा बल्कि युवाओं के भविष्य को लेकर तैयार की गई योजनाओं का भी युवा सहजता के साथ लाभ उठा सकेंगे। खेल विभाग की यूथ क्लब के गठन में अहम हिस्सेदारी रहेगी। विभाग की ओर से यूथ क्लब के गठन को नियम व शर्तें निर्धारित की गई हैं, जिनके अंतर्गत ही यूथ क्लब के सदस्यों का चयन किया जाएगा। अहम पहलू यह है कि यूथ क्लब में महिलाओं की भागेदारी 50 फीसदी रहेगी, जिससे गांव की बेटियां व महिलाएं ज्यादा सशक्त होंगी। इसके साथ ही यूथ क्लब पूरी तरह गैर-राजनीतिक होगा, उसका संबंध खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग या फिर नेहरू युवा केंद्र की ओर से संचालित किए जाने वाले कार्यक्रमों के साथ रहेगा।

यह होंगे मानक
गांव में यूथ क्लब के सदस्य के लिए सबंधित गांव का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है। इसके लिए 15 से 29 वर्ष तक की आयु निर्धारित की गई है। क्लब में सभी धर्मों, जातियों व समुदाय के सदस्य बनाए जाएंगे। युवा पदाधिकारियों में 50 फीसद प्रतिनिधित्व युवतियों का रहेगा। राष्ट्रीय, राज्य व जिला स्तर र युवा पुरस्कार विजेताओं को प्राथमिकता दी जाएगी। युवा पदाधिकारियों के परिवार से कोई सदस्य तत्कालीन ग्रामीण पंचायत में प्रतिनिधि न हो। युवा प्रतिभागियों का कार्यकाल 2 वर्ष के लिए रहेगा।

यह होगा यूथ क्लब का कार्य
यूथ क्लब ग्रामीण स्तर पर सरकारी योजनाओं को कार्यन्वित करने में अपना सहयोग देगा। जिला प्रशासन व राज्य सरकार द्वारा चलाए जाने वाले अभियानों में यूथ क्लब की भागेदारी अनिवार्य होगी। यूथ क्लब की ओर से एक महीने में कम से कम दो सामाजिक गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। सभी यूथ क्लब राष्ट्रीय व राज्य की युवा नीति का अनुसरण करेंगे। यूथ क्लब मंडल स्तर पर एक महीने में, जिला स्तर पर तीन महीने में और राज्य स्तर पर एक महीने में एक बैठक का आयोजन करेंगे। इसमें संबंधित विभाग के अधिकारियों से लेकर मंत्री व मुख्यमंत्री की मौजूदगी रहेगी। यूथ क्लब युवाओं व अन्य सुझावों को विभाग और सरकार के सक्षम प्रस्तुत करेंगे ताकि नई योजनाओं को अमलीजामा पहनाया जा सके।

युवाओं के सपनों को सही दिशा देना यूथ क्लब का उद्देश्य खेलमंत्री संदीप सिंह का कहना है कि यूथ क्लब में युवाओं की भागेदारी रहेगी। यूथ क्लब का उद्देश्य युवाओं के उनके मुकाम तक पहुंचाने के साथ सपनों को सही दिशा देना है। क्योंकि नए युवाओं को हमेशा एक दिशा देने की जरूरत होगी। अगर सरकार उन्हें इसके लिए मदद करेगी तो युवा आसानी से अपने लक्ष्य को हासिल कर सकेंगे। इसके साथ ही यूथ क्लब से सरकार की योजनाएं भी समाज के हर वर्ग के व्यक्ति तक पहुंचेंगी, जिसका वह आसानी से लाभ उठा सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here