जब नाथुला पहुंची रक्षा मंत्री, फोटो खींचने लगे चीनी सैनिक

0
1397
Spread the love
Spread the love

Gangtok News : रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने चीन-भारत सीमा पर नाथुला इलाके का दौरा किया और सेना तथा भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के अधिकारियों से बातचीत की। इस बीच, सीतारमण ने अपने टि्वटर हैंडल पर कहा कि सीमा पर जब वह नाथुला पहुंचीं तो चीनी सैनिकों ने उनकी तस्वीरें ली

निर्मला सीतारमण ने अपने टि्वटर हैंडल पर कहा कि सीमा पर जब वह नाथुला पहुंचीं तो चीनी सैनिकों ने उनकी तस्वीरें ली। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैंने बाड़ के दूसरी ओर कई चीनी सैनिकों को देखा जो नाथुला पहुंचने पर मेरी तस्वीरें ले रहे थे।’’ उन्होंने बाद में सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन चामलिंग से उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की और सेना तथा राज्य के वन विभाग के बीच भूमि मुद्दे समेत विभिन्न मुद्दों पर राज्य सरकार से हस्तक्षेप करने के लिए कहा।

डोकलाम-नाथुला इलाके का हवाई सर्वेक्षण
इससे पहले राज्य सरकार के अधिकारियों ने कहा था कि रक्षा मंत्री ने डोकलाम-नाथुला इलाके का हवाई सर्वेक्षण किया। सिक्किम के एक दिवसीय दौरे पर आयी सीतारमण गंगटोक से 52 किलोमीटर दूर नाथुला सड़क मार्ग से पहुंचीं और उन्होंने वहां तैनात सेना तथा आईटीबीपी अधिकारियों से बातचीत की।

खराब मौसम के कारण हवाई सर्वेक्षण रद्द
सिक्किम सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी बयान के मुताबिक, ‘‘केंद्रीय मंत्री का सिक्किम में भारत-चीन सीमा पर डोकलाम और अग्रिम चौकियों का हवाई सर्वेक्षण करने का कार्यक्रम खराब मौसम के कारण रद्द कर दिया गया। हालांकि उन्होंने दोपहर में नाथुला सीमा से लौटने के बाद पूर्वी सिक्किम में नए ग्रीनफील्ड पाक्योंग हवाईअड्डे से गंगटोक और आसपास के इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया।’’ सीतारमण को नाथुला पहुंचने पर सलामी गारद दिया गया। उन्हें पूर्वी कमान के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल अभय कृष्णा ने सिक्किम सेक्टर में चीन-भारत सीमा पर सुरक्षा तैयारियों के बारे में बताया। उपसेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल सारथ चंद्रा भी वहां मौजूद थे।

डोकलाम गतिरोध के बाद रक्षा मंत्री का दौरा
रक्षा मंत्री का सीमावर्ती इलाके का दौरा डोकलाम में करीब 70 दिनों के गतिरोध के बाद भारत और चीनी सेना को वहां से हटे हुए एक महीने से ज्यादा का समय बीतने के बाद हुआ है।

राजमार्ग एनएच-10 अवरुद्ध होने से नुकसान
विज्ञप्ति में कहा गया है कि चामलिंग ने सरकार की ओर से पूरा हस्तक्षेप करने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री ने पश्चिम बंगाल के पड़ोसी दार्जीलिंग पर्वतीय क्षेत्र में चल रहे आंदोलन के कारण सिक्किम के लोगों को हो रही परेशानियों के बारे में बताया।

उन्होंने बताया कि सिक्किम को देश के शेष हिस्से से जोड़ने वाला एकमात्र राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच-10 अवरुद्ध होने के कारण उसे काफी आर्थिक नुकसान हो रहा है। उन्होंने केंद्र से सिक्किम के लिए नया राजमार्ग बनाने के काम में तेजी लाने का आग्रह किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here