दिव्य धाम आश्रम, दिल्ली में आयोजित मासिक आध्यात्मिक कार्यक्रम में परमार्थ चिंतन की उपयोगिता पर बल दिया गया

0
155
Spread the love
Spread the love

New Delhi : गुरुदेव श्री आशुतोष महाराज जी (संस्थापक एवं संचालक, डीजेजेएस) के अलौकिक मार्गदर्शन में दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान (डीजेजेएस) द्वारा दिव्य धाम आश्रम, दिल्ली में मासिक आध्यात्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रममें दिएगए जीवनकेलिए महत्वपूर्णअध्यात्म के मार्मिकसंदेशों को आत्मसातकरनेहेतु बड़ी संख्या में श्रद्धालु एकत्रित हुए।

डीजेजेएस प्रतिनिधियों ने अमूल्य आंतरिक अनुभवों और अध्यात्म से उद्धृत जीवन की शिक्षाओं को सांझा किया। इन विचारों ने प्रत्येक साधक को धर्म एवं नीति परायणता के पथ पर अग्रसर होने के लिए प्रेरित किया। जिस प्रकार से छात्र को किसी शैक्षणिक विषय पर मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए शिक्षक की आवश्यकता होती है, उसी प्रकार एक पूर्ण गुरु आध्यात्मिक मार्गदर्शक के रूप में कार्य करते हैं, जो एक शिष्य के लिए उसकी आतंरिक यात्रा में पथ प्रदर्शक बनते हैं। वे आंतरिक जाग्रति प्रदान कर शिष्य को जीवन के परम लक्ष्य की ओर अग्रसर करते हैं। संक्षेप में कहें तो एक पूर्ण गुरु केवल श्रेष्ठ विचारों और सिद्धांतों की बड़ी बड़ी बातें नहीं करते, बल्कि उन्हें शिष्य में उतारकर एक परिवर्तनकारी यात्रा के अग्रणी बनते हैं।

इन विचारों से श्रद्धालुओं को अपने जीवन में आध्यात्मिकता को अभिन्न अंग के रूप में अपनाने के लिए प्रेरणा मिली। उन्होंने विपत्तियों का सामना करने एवं जीवन में नैतिकता का वरण करने का संकल्प धारण किया। कार्यक्रम का समापन ध्यान साधना और सामूहिक भोज के साथ हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here