पंप्ड स्टोरेज प्रोजेक्ट और विभिन्न नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के कार्यान्वयन हेतु एनएचपीसी और एपीजेनको के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

0
192
Spread the love
Spread the love

Faridabad : स्वच्छ और हरित ऊर्जा की दिशा में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए एनएचपीसी ने दिनांक 23.08.2023 को आंध्र प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री वाई.एस.जगन मोहन रेड्डी की गरिमामयी उपस्थिति में,आंध्र प्रदेश में पंप्ड हाइड्रो स्टोरेज प्रोजेक्ट तथा अन्य नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के संयुक्त उद्यम के तहत कार्यान्वयन के लिए आंध्र प्रदेश पावर जनरेशन कॉर्पोरेशनलिमिटेड (एपीजेनको) (आंध्र प्रदेश सरकार का उपक्रम) के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया है।

श्री आर.पी. गोयल, निदेशक (वित्त), एनएचपीसी और श्री. के.वी.एन. चक्रधर बाबू, आईएएस, प्रबंध निदेशक, आंध्र प्रदेश पावर जनरेशन कॉरपोरेशनलिमिटेड (एपीजेनको) द्वारा इस समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया। इस अवसर पर दोनों उद्यमों के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

समझौता ज्ञापन के अनुसार पहले चरण में 1950 मेगावाट की दो पंप्ड हाइड्रो स्टोरेज परियोजनाओं (कमलापाडु-950 मेगावाट और यागंती-1000 मेगावाट)को कार्यान्वित किया जाएगा। इन परियोजनाओं के कार्यान्वयन से रोजगार के महत्वपूर्ण अवसर पैदा होंगे और क्षेत्र में स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा।

समझौता ज्ञापनके अनुसार स्वच्छ और हरित ऊर्जा के राष्ट्रीय उद्देश्य यानी 2030 तक 500 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा और 2070 तक नेट ज़ीरो लक्ष्य प्राप्त करने के लिए एनएचपीसी और आंध्र प्रदेश पावर जनरेशन कॉरपोरेशनलिमिटेड (एपीजेनको) द्वारा संयुक्त रूप से पंप्ड हाइड्रो स्टोरेज परियोजनाओं का विकास तथा उपयोग किया जाएगा जो ऊर्जा भंडारण के लिए एक समाधान होगा।

एनएचपीसी लिमिटेड भारत की अग्रणी जलविद्युत कंपनी है। अपने 25 पावर स्टेशनों के माध्यम से एनएचपीसी की कुल संस्थापित क्षमता 7097.2 मेगावाट नवीकरणीय ऊर्जा (पवन और सौर सहित)है, जिसमें सहायक कंपनियों के माध्यम से 1520 मेगावाट शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here