जादूगर ओ पी शर्मा के इंद्रजाल से मंत्रमुग्ध हुए दर्शक

0
133

Faridabad News, 29 Dec 2019 : कभी फुर्सत में अपनी नानी-दादी से दुनिया के सबसे खतरनाक जानवर डायनासोर के चर्चे सुनने और टी.वी के जियोग्राफी चैनल में इसे देखने वाले बच्चो के ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा जब जादूगर ओ. पी शर्मा के जादुई करिश्मो के बीच मंच पर अचानक डायनासोर प्रकट हो गया और चिंघाड़ते हुए दर्शको की तरफ बढ़ने लगा, लेकिन दूसरे ही छड़ जादूगर ने उसे काबू कर लिया। लोगो की समझ में नहीं आ रहा था कि ये क्या हो रहा है, और जब होश आया तो बच्चो की किलकारी और बड़ो क़े वाह-वाह से पूरा हॉल गूंज उठा। ये मौका था जादूगर ओ. पी. शर्मा क़े उद्घाटन शो का।

फरीदाबाद के दशहरा ग्राउंड (एन. आई. टी.), में नवीनतम जादुई चमत्कारों क़े साथ शुरू हुआ “दुनिया का अजूबा मायाजाल। जादूगर ओ. पी. शर्मा क़े उद्घाटन शो में जैसे ही जादू का पिटारा खुला सभी दर्शक उनके हैरतअंगेज कर देने वाले कारनामो को देखकर आश्चर्यचकित होकर दातो तले ऊगली दबाने से मजबूर हो गए। उद्घाटन शो में माननीय अतिथि अर्पित जैन आईपीएस (डी. सी. पी. एनआईटी) में शहर क़े गढ़मान्य लोगो एवं अधिकारियो की मौजूदगी में मशाल जलाकर उद्घाटन किया, अपने संबोधन में डी. सी. पी. ने जादूगर ओपी शर्मा सीनियर जूनियर के पचास सालों की त्याग तपस्या कला साधना और सामाजिक हित में चलाए जाने वाले उनके मैजिक विद मिशन की भरपूर सराहना करते हुए कहा कि यह सब एक महान शख्सियत ही कर सकता है l उन्होने शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों की बहुत कमी है इसलिए इसे जरूर देखे और कलाकार को प्रोत्साहित करे। सभी दर्शक भी उस समय हैरत में पड़ गए। जब अपने जादू से जादूगर ने जलती मशाल से एक सफ़ेद कबूतर प्रकट किया। उसी सफ़ेद कबूतर को उड़ाकर फरीदाबादवासियो को शांति का सन्देश दिया और उसके बाद जो जादुई करिश्मो का शिलशिला शुरू हुआ तो किसी को सोचने का मौका नहीं मिला कि ये सब कैसे हो रहा है। अमेरिका की विशालतम “स्टैचू ऑफ़ लिबर्टी” को पालक झपकते ही गायब किया तो लोग हैरत भरी नज़रो से एक दूसरे का चेहरा देखते रह गए।

शो के उद्धाटन के बाद मशहूर जादूगर ओ.पी शर्मा ने अपने शो में दर्शको एक ऐसे सच का एहसास कराया कि वाकई यह रहस्यमी दुनिया एक सच्चाई है। जादुई करिश्मो के बीच नई कला “माइम मैजिक” मंच पर एक पुतले का खोपड़ी से हवा में बाते करना लोगो को अचंभित कर बैठा। इस कला के साथ-साथ बच्चो ने खूब लगाए ठहाके बड़े भी पीछे नहीं रहे य जादूगर ओ. पी. शर्मा क़े जादू शो में है रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़े पहलू। हलकी फुलकी हसी-मजाक। जादूगर ओ.पी शर्मा ने अपने एक जादुई प्रदर्शन क़े लिए दो तीन छोटे बच्चो को मंच पर बुलाया तो बच्चो को पूरी फौज इकट्ठी हो गई, उनमे से एक बच्चे से जब जादूगर ने पूछा की बड़े होकर क्या करोगे तो उसका जवाब था शादी करेंगे । दूसरे से पूछा तो बच्चे पैदा करेंगे। बच्चो क़े इस अजीबो गरीब जवाब से बच्चो क़े साथ साथ बड़े भी हसते हसते लोटपोट हो गए।

एक खली डिब्बे से ढेर सारे कबूतरए खरगोश और फूलो का बाग निकलते देख बच्चो की ख़ुशी का ढिकाना नहीं रहा । कुछ बच्चे तो स्टेज पर फुदकते हुवे खरगोश और जादू से बनाये गए प्यारे प्यारे कुत्तो को ही निहारते हुवे पकडकने की तरह फ़िराक में पड़े रहे।

अँधविश्वास और ढोंगियों का पर्दा फाश:- जादू और अध्यात्म क़े सहारे जादूगर हवा में ऊपर देश दर्शक भक्तिभाव में लीन हो गए । अध्यात्म और जादू क़े माध्यम से उन्होंने बताया कि कैसे विज्ञानं का सहारा लेकर ढोंगी तांत्रिक आम लोगो को ढगते है और अपना उल्लू सीधा कर लेते है। भोले-भोले लोगो को जादूगर ओ. पी. शर्मा ने यही सन्देश दिया कि यह सब विज्ञानं की करामत है कि कोई सिद्धि नहीं। इसलिए ऐसे चमत्कार दिखाने वाले ढोंगियों तांत्रिको से बचे। जादू को केवल मनोरंजन की नजर से देखे।

ग्लैमर व हाईटेक तरीकेः- जादूगर को हर आईटम के बाद नई पोशाक में देखकर दर्शक आश्चर्य में पड़ गये कि इतने अल्प समय में इतनी जल्दी पूरी पोशाक कैसे बदल गई । कई दर्शकों को तो यह भी कहते सुना गया कि जादूगर अपनी पोशाक भी जादू से बदल लेते हैं । पर्दे के पीछे गए नहीं कि पोशाक बदल गई। अत्याधुनिक संगीत और विधुत साज – सज्जा के साथ प्रस्तुत किये जाने वाले इस दो घंटे के जादू प्रदर्शन में लोग इस कदर तल्लीन रहे कि दो घंटे कब बीत गये लोगों को पता ही नहीं चला । गौरतलब बात यह रही कि जादूगर शर्मा के हर जादुई करतबों का प्रस्तुतिकरण, ध्वनि और प्रकाश का तालमेल सराहनीय और अजूबा है। जादू शो की समाप्ति पर दर्शकों की भीड़ ने जादूगर को खूब बधाईयां दी एवं शो की सराहना की। सच कहा जाए तो इस बार बिल्कुल नये-नये जादूई करिश्मों से भरपूर ऐसा रोचक और स्वस्थ मनोरंजन से पूर्ण जादू शो ग्वालियर के लोगों को पहली बार देखने को मिला है, जिसे लोग हमेशा याद रखेंगे।

दर्शकों एवं जादू शो के समस्त कलाकारों का सामूहिक प्रदर्शन :- जादू शो के अंत में जब सभी कलाकार हाल में बैठे बच्चों को बैलून बांटते हुए दर्शकों के बीच पहुचते हैं तो बच्चे कलाकारों के साथ ख़ुशी के मारे नाचने लगते हैं, और ऐसे माहौल को देख कर बच्चों के साथ-साथ बड़े भी थिरकने से अपने आपको रोक नहीं पाते जिससे पूरा माहौल खुशनुमा हो जाता है।

सोशल मैसेज भी दिए गए :- जादूगर ओ. पी. शर्मा अपने शो में कन्या भ्रूण हत्या, नशाखोरी और ढोंगी पाखंडी बाबाओं से बचने के लिए सामाजिक संदेश भी दिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here