फिजिक्स वाला ने ‘प्रेरणा’ हेल्पलाइन की मदद से पूरे भारत में 20,000 छात्रों को भावनात्मक सपोर्ट देकर मजबूत बनाया

0
148
Spread the love
Spread the love

05 अक्टूबर, 2023: 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस है। इससे पहले ही, भारत के अग्रणी एडटेक प्लेटफॉर्म, फिजिक्स वाला (पीडब्ल्यू) ने छात्रों की पढ़ाई के साथ उनके मानसिक स्वास्थ्य के प्रति भी अपनी चिंता दिखाई है। पीडब्ल्यू अपनी मुफ्त हेल्पलाइन ‘प्रेरणा’ के माध्यम से छात्रों को भावनात्मक रूप से मजबूत बना रहा है। हेल्पलाइन 16 और शहरों में ऑफ़लाइन रूप में विस्तार भी करेगी। इससे छात्रों को आमने-सामने होकर सहायता की जा सकेगी।

पिछले साल नवंबर से ही इस हेल्पलाइन के जरिये पूरे भारत में 20,140 छात्रों की सहायता की गई है। उन्हें परीक्षा-संबंधी तनाव और चिंता के दौरान मानसिक रूप से मजबूत बनाया गया है। पीडब्ल्यू और भारत के किसी भी अन्य छात्र, दोनों के लिए विभिन्न स्थानीय भाषाओं में विशेषज्ञों का मुफ्त परामर्श उपलब्ध है।

प्रेरणा, पीडब्ल्यू फाउंडेशन की एक पहल है। इस समय, इसके पास अनुभवी सलाहकारों की एक समर्पित टीम है। इसमें 17 ऑनलाइन और 6 ऑफ़लाइन रूप से बच्चों की मदद करते हैं। यह कोटा और पटना में स्थित हैं। जबकि ऑनलाइन सेवाएं पूरे देश के छात्रों के लिए उपलब्ध हैं। यह सप्ताह में छह दिन सुबह 10 बजे से रात 9 बजे तक खुला रहता है।

सलाह देने के अलावा, प्रेरणा टीम पेरेंट्स को भी शामिल कर रही है। उन्हें अपने बच्चों की क्षमताओं और कमियों की पहचान करने और सही दिशानिर्देश देने में मदद कर रही है। वेबिनार से लेकर ध्यान सत्र तक, प्रेरणा टीम यह कोशिश करता है कि वे छात्रों की जरूरतों को बेहतर ढंग से समझें। इसके लिए कोटा और पटना स्थित पीडब्ल्यू विद्यापीठ सेंटर्स में सक्रिय रूप से कक्षाओं का दौरा करें और एकेडमिक समुदाय के भीतर अपनी उपस्थिति को मजबूत बनाएं।

भाषा की बाधाओं को दूर करने के लिए, प्रेरणा के पास प्रशिक्षित और एक्सपर्ट परामर्शदाताओं की एक टीम है, जो हिंदी, अंग्रेजी, मराठी और तमिल में भाषा में पारंगत हैं।

पीडब्ल्यू के संस्थापक और सीईओ अलख पांडे ने कहा, “छात्र अक्सर अपनी चुनौतियों के बारे में मुझसे बात करने के लिए आते हैं, और मैं वास्तव में उनके लिए चिंतित हो जाता हूं। जैसे-जैसे कंपनी का विस्तार हुआ, हर छात्र के साथ व्यक्तिगत रूप से जुड़ना मुश्किल होता गया। मुझे अपनी प्रेरणा टीम पर बहुत गर्व है, जिसने एक सहायता करने वाले समुदाय की स्थापना की। यह छात्रों को अपनी चुनौतियों का वास्तविक रूप से सामना करने के लिए सशक्त बनाता है। एक समाज के रूप में, हमें अपने बच्चों पर पड़ने वाले पढ़ाई के दबाव पर पुनः सोचने की जरूरत है। और एक ऐसे सम्पूर्ण परिवेश के निर्माण को प्राथमिकता देनी चाहिए जिससे शिक्षा उन्हें बोझ न लगे।”

प्रेरणा छात्रों की प्राइवेसी और कीमती फीडबैक को प्राथमिकता देती है, जिससे यह भारत में सबसे भरोसेमंद और फौरन उपलब्ध होने वाली हेल्पलाइनों में से एक बन गई है।

किसी आपात स्थिति में छात्रों को समय पर सहायता पहुंचने के लिए, प्रेरणा ने एक तकनीकी-सक्षम मानसिक स्वास्थ्य स्टार्टअप लिसुन को भी शुरू किया है, जिसमें मानसिक स्वास्थ्य, तकनीकी और वेलनेस पेशेवरों की एक टीम शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here