ओटीटी क्राइम थिल्रर बंबई मेरी जान से अश्वनी कुमार को मिली पहचान

0
144
Spread the love
Spread the love

New Delhi : इन दिनों ओटीटी प्लेटफार्म “अमेजन प्राइम “ वीडियो पर प्रसारित हो रहे एक्सेल एंटरटेनमेंट के बैनर तले निर्मित क्राइम थिल्रर “बंबई मेरी जान” में नासिर एडेनवाला के चरित्र के माध्यम से दर्शकों को दिलों पर अपनी एक अलग छाप छोड़ने वाले अभिनेता अश्वनी कुमार इन दिनों देश की राजधानी में एक एक्शन थिल्रर फिल्म की शुटिंग में व्यस्त है। संभवत यह फिल्म अगले साल रिलीज हो। इसके अलावा अश्वनी कुमार का कुछ और प्रोजेक्ट को लेकर बातचीत चल रही है। जिसमें से फिल्म और ओटीटी दोनों शामिल हैं।

वर्ष 2018 में हंदी फिल्म “रेड” (2018) से हुई फिल्मी सफर की शुरूआत आज “बंबई मेरी जान “जैसे लोकप्रिय ओटीटी सीरीज तक पहुंच गई है। अश्वनी बंबई मेरी जान में निभाये अपने नासिर एडेनवाला के चरित्र काफी संतुष्ट हैं और आने वाले समय में वह अपने अभिनय से दर्शकों के दिलों में बस जाना चाहत हैं। अश्वनी ने फिल्म “रेड “ में एक मुखिबीर की भूमिका निभाई थी जो छिपे हुए सोने के ठिकाने के बारे में अजय देवगन को अंदरूनी जानकारी देता है। इसके बाद वर्ष 2020 में फिल्म “चमन बहार “में एक अमीर स्थानीय व्यवसायी के बेटे, आशू भैया की भूमिका निभाई। इस चरित्र के लिए अश्वनी कुमार को खूब सराहा गया और देश में ही नहीं विदेशों तक में इन्हें लोकप्रियता मिली। इसके अलावा इन्होंने कुछ स्वतंत्र फिल्मों में भी काम किया है।

अश्वनी कुमार ने पहली बेव सीरीज “बंबई मेरी जान “को वर्ष 2019 में साइन की थी और इसका प्रसार इन दिनों अमेजन प्राइम पर हो रहा है। अश्वनी कुमार फिलहाल एक एक्शन थिल्रर फिल्म की शूटिंग में व्यस्त है।

गुड़गांव में जन्मे अश्वनी कुमार ने डी.ए.वी स्कूल से पढाई की है और उन्होंने ड्रामेटिक्स क्लब को इसलिए ज्वाइन कर लिया कि उन्हें कोई होमवर्क नहीं मिलेगा। उनकी माने तो उन्हें पता नहीं था कि स्कूल के दिनों में उठाया गया उनका कदम उनकी मंजिल को किस ओर ले कर जाएगी। अश्वनी कुमार कहते है कि उन्हें पता नहीं था कि इससे मेरे करियर और मेरी जिंदगी पर इतना बड़ा असर पड़ेगा। उन्होंने इंजीनियरिंग की पढाई की और फिर कुछ समय तक एक प्रसिद्ध टेलीकॉम कंपनी में काम भी किया। लेकिन उनके अंदर का अभिनेता उन्हें चैन से रहने नहीं दे रहा था और वही बेचैनी उन्होंने भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान, पुणो ले गया जहां से उन्होंने स्नातक किया। यहां पर उन्होंने फिल्म व अभिनय की बारीकियां सीखीं और इस दौरान कई फिल्मों पर काम भी किया। यही उन्हें फिल्मों की दुनिया से ठीक से परिचय हुआ । वह इस अवधि को अपने जीवन के सबसे अच्छे वर्षो में गिनते हैं।

अश्वनी कुमार बताते है कि एफटीआईआई से स्नातक होने के बाद वह वर्ष 2017 में मुंबई चला आये और यहां से ऑडिशन देना शुरू कर दिया और इसी दौरान उन्हें उनकी पहली हिंदी फिल्म “रेड “(2018) मिली। आज वह किसी पहचान के मोहताज नहीं है।“

क्राइम थिल्रर “बंबई मेरी जान “ में निभाये अपने नासिर एडेनवाला के चरित्र को लेकर अश्वनी कुमार काफी उत्साहित है। वह कहते है कि यह मेरी पहली वेव सीरीज है और मुझे खुशी है कि मुझे एक्सेल एंटरटेनमेंट के सबसे प्रतिभाशाली कलाकार केके मेनन के साथ काम करने का मौका मिला। मैंने हमेशा उनके काम की प्रशंसा की है और हमेशा उनके साथ काम करना चाहता था इसलिए यह एक सपने के सच होने जैसा है। इस सीरिज के निर्देशक शुजात सौदागर ने हम सभी के साथ एक परिवार की तरह व्यवहार किया जिसकी वजह से हम अभिनेताओं ने वेहतरीन अभियन किया, जिसका असर इस सीरिज में देखने को मिल रहा है। उन्होंने कभी भी यह नहीं बताया कि ‘‘कैसे अभिनय करना है‘‘। उन्होंने हम पर भरोसा किया और हमें वह करने की पूरी आजादी दी जो हमें लगा कि चरित्र के लिए सही है और यह वास्तव में उन सभी प्रदशर्नों में दिखाई देता है जो हम शो में देखते हैं।

इस सीरीज में मैं एक पत्रकार नासिर एडेनवाला का किरदार निभा रहा हूं जो दारा का सबसे अच्छा दोस्त है। नासिर एक वफादार दोस्त होने के नाते, दारा के लिए लेख लिखकर अपने तरीके से उसकी मदद करना चाहता है। उन्होंने बताया कि कहानी की मांग के अनुसार उन्होंने 70 के दशक काल खंड को साकार करने के लिए हाव भाव से लेकर बोलचाल को सीखा और उसे पर्दे पर साकार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here