कांग्रेस की सरकार बनने पर फरीदाबाद का होगा चहुंमुखी विकास : भूपेंद्र हुड्डा

0
95
Spread the love
Spread the love

हुड्डा बोले : कांग्रेस सरकार बनने पर देंगे 6 हजार पैंशन और 500 रूपए में गैस सिलेंड

लखन सिंगला द्वारा आयोजित ‘जन-आक्रोश रैली’ में उमड़ा अपार जनसमूह

फरीदाबाद। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष चौ. भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने रविवार को फरीदाबाद विधानसभा से हरियाणा में बदलाव की हुंकार भरी। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र फरीदाबाद में दिख रहा लोगों का जनाक्रोश बता रहा है कि हरियाणा से भाजपा सरकार जा रही है और कांग्रेस आ रही है। लोग समझ चुके है कि इस सरकार से वोट की चोट से पीछा छुड़ाने का अब सही समय आ गया है। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वह एकजुट हो भाजपा सरकार को उखाड़ फैंकने के लिए प्रचार और प्रसार में जुट जाए। श्री हुड्डा रविवार को फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर-12 स्थित ग्राउंड में कांगे्रेस के पूर्व प्रत्याशी लखन सिंगला द्वारा आयोजित ‘जन-आक्रोश रैली’ को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। रैली की अध्यक्षता हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौ. उदयभान ने की, जबकि राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा भी मुख्य रूप से मौजूद रहे। रैली में पहुंचने पर लखन कुमार सिंगला व फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र की मौजिज सरदारी ने श्री हुड्डा सहित हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. उदयभान, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा, आफताब अहमद सहित वरिष्ठ कांग्रेसजनों का बड़ी माला व शॉल ओढ़ाकर सम्मान रूपी स्वागत किया। वहीं रैली में उमड़े अपार जनसैलाब से गदगद मुख्यातिथि भूपेंद्र हुड्डा व सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने जहां मंच से खुलकर रैली आयोजक लखन सिंगला की जमकर तारीफ की वहीं ज्यादातर वक्ताओं ने रैली की सफलता पर लखन सिंगला को जमीनी नेता की संज्ञा दी। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने रैली को संबोधित करते हुए फरीदाबाद की बदहाली पर भाजपा सरकार पर जमकर वार किए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में विश्वस्तर पर अपनी पहचान रखने वाला फरीदाबाद आज भाजपा सरकार में एक तरह से फकीराबाद कहलाने लगा है, विकास के नाम पर यहां शून्य ही दिखाई देता है, जो भी विकास परियोजनाएं है, वह भी हमारे कांग्रेस शासन की ही देन है। अगर फिर से फरीदाबाद को वही पुराना स्वरूप लौटाना है तो फिर से कांग्रेस को लाना होगा, कांग्रेस सरकार बनते ही पहली कलम से फरीदाबाद का चहुंमुखी विकास ही उनकी पहली प्राथमिकता होगी। उन्होंने प्रदेश की चरमराई कानून-व्यवस्था का जिक्रकरते हुए कहा कि आज हर व्यक्ति परेशान है। कानून-व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब है। हरियाणा के बारे में किसी को कुछ बताने की जरूरत नहीं है। लोग खुद भुगतभोगी हैं और परेशानी झेल रहे हैं। ऐसा कोई दिन नहीं बीतता जब कत्ल न हो, लूट, फिरौती की धमकी न मिलती हो। केंद्र सरकार के आंकड़े बता रहे कि पिछले 9 साल में हरियाणा सबसे असुरक्षित प्रदेश बन गया है। आज ही सुबह सोनीपत के मुरथल में एक व्यक्ति की गोलियां मारकर हत्या की जानकारी मिली। इस प्रकार की खबरें रोज आ रही हैं। उन्होंने कहा कि जो हरियाणा प्रति व्यक्ति आय, प्रति व्यक्ति निवेश, नौकरी देने में, कानून व्यवस्था में नंबर एक पर था वो आज पूरे देश में बेरोजगारी, महंगाई, अपराध में नंबर एक पर है। हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में 2 लाख सरकारी पद खाली पड़े हैं। उन्होंने सरकार को चुनौती दी कि 10 साल में इस सरकार ने फरीदाबाद में कोई एक काम किया हो तो बता दे। यहाँ हजारों छोट-बड़े कारखाने बंद हो चुके हैं। स्कूलों में मास्टर नहीं, अस्पतालों में डॉक्टर नहीं और दफ्तरों में कर्मचारी नहीं हैं। हुड्डा ने कहा कि चुनाव के बाद प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनेगी और प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने पर 6000 रुपये महीने बुढ़ापा पेंशन देंगे। हर परिवार को महीने में 300 यूनिट बिजली मुफ्त देंगे। महंगाई से राहत के लिए रसोई गैस सिलेंडर 500 रुपये में देंगे। खाली पड़े 2 लाख सरकारी पदों पर पक्की भर्ती शुरु करेंगे, सफाई कर्मचारियों को पक्का करेंगे। 100-100 गज मुफ्त प्लाट की योजना दोबारा शुरु करेंगे और उस पर 2 कमरों का मकान बनवाने के लिये सरकारी मदद देंगे। बैकवर्ड क्लास की क्रीमी लेयर आय सीमा को 6 लाख से बढ़ाकर 10 लाख करेंगे। हर गरीब का पीला कार्ड बनवायेंगे। खिलाडिय़ों के लिए पदक लाओ, पद पाओ योजना फिर से लागू करेंगे। प्रदेश को नशामुक्त बनायेंगे। जनविरोधी पोर्टल बंद करेंगे। सरकारी कर्मचारियों के लिये ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करेंगे। हरियाणा को फिर से नंबर 1 बनायेंगे फरीदाबाद को आगे लेकर जायेंगे।

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौ. उदयभान ने बीजेपी सरकार की झूठी गारंटियों और जुमलेबाजियों पर खुलकर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा ने आज तक जो-जो गारंटी दी, वो सारी गारंटियां लोगों में मजाक का पात्र बन गयी हैं। यहाँ उमड़ा जनसैलाब इस सरकार के खिलाफ बढ़ते जा रहे जन-आक्रोश का प्रतीक है। उन्होंने बीजेपी सरकार की झूठी घोषणाओं पर सवाल उठाते हुए पूछा कि फरीदाबाद-गुडग़ांव तक प्रधानमंत्री ने मेट्रो मंजूरी की घोषणा की थी उसका क्या हुआ? आज तक इस योजना के लिए एक धेला नहीं दिया। देश और प्रदेश में ऐसी ही झूठी घोषणाएं करने वाले लोगों की सरकार है। इस सरकार से छुटकारा पाने के लिए एकजुट होना होगा।

सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा के हालात किसी से छिपे हुए नहीं हैं। 2014 से पहले तक हरियाणा में जो चमक दिखती थी आज खट्टर सरकार के 10 साल बाद वो चमक फीकी पड़ गयी है। फरीदाबाद के लोगों ने 2019 का चुनाव जिताकर भाजपा को ऑक्सीजन तो दी, लेकिन कोविड काल में उसी भाजपा सरकार ने फरीदाबाद को ऑक्सीजन तक नहीं दी। इस सरकार ने हरियाणा ही नहीं फरीदाबाद को भी विकास की पटरी से उतार दिया। 10 साल बाद खट्टर सरकार ने चुनावी सीजन में प्रधानमंत्री जी से 1 महीने में 3 परियोजनाओं का फीता कटवाया। लेकिन तीनों परियोजना हांसी महम रेल लाइन, झज्जर का केंद्रीय योग और प्राकृतिक चिकित्सा अनुसंधान संस्थान और कल उद्घाटित होने वाला द्वारका एक्सप्रेस-वे ऐसी थी जिनकी मंजूरी, शिलान्यास और काफी काम भी हमारे समय हो गया था। उन्होंने सवाल किया कि क्या खट्टर सरकार को 10 साल में अपनी एक ऐसी परियोजना नहीं मिली जिसकी मंजूरी, शिलान्यास और काम भी शुरु कराकर पूरा कराया हो।  उन्होंने आगे कहा कि 10 साल में विकास के नाम पर फरीदाबाद में बीजेपी के आलीशान दफ्तर बनने के अलावा कुछ नहीं हुआ।  उन्होंने कांग्रेस की हुड्डा सरकार के समय फरीदाबाद में हुए काम गिनाते हुए बताया कि बदरपुर फ्लाईओवर, सिक्स लेन मथुरा रोड, मेट्रो, बाईपास, आईएमटी की स्थापना, ईएसआई मेडिकल कॉलेज, वाईएमसीए यूनिवर्सिटी बनायी गयी। वहीं, भाजपा सरकार ने फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा तो की लेकिन स्मार्ट सिटी तो दूर, नरक सिटी बना दी। साफ-सफाई का इतना बुरा हाल है कि फरीदाबाद में बारिश नहीं भी होती है तो कश्तियां चलने लगती है। हमारी सरकार के समय बदरपुर फ्लाईओवर, 4 लेन सडक़, ईएसआई अस्पताल आदि बनवाकर विकास को रफ्तार दी।  प्रदेश में रिकार्ड बेरोजगारी की समस्या के बारे में बोलते हुए दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि बीजेपी सरकार ने हरियाणा के पढ़े-लिखे नौजवानों के साथ बहुत बड़ा धोखा किया है। 2 लाख से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। हजारों सरकारी पद समाप्त कर दिये। कौशल निगम के माध्यम से पक्के पदों पर कच्ची भर्ती की जा रही है। हर चुनाव के पहले ग्रुप डी की भर्ती निकालकर नौजवानों को धोखा दिया जा रहा है। कुल मिलाकर सिर्फ कागजों पर रोजगार देने का काम हो रहा है। इस सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है। हर रोज एक नया घोटाला उजागर हो रहा है। गरीबों की कॉलोनियों को उजाड़ा जा रहा है लेकिन अरावली की जमीनों को बड़े उद्योगपतियों के हवाले किया जा रहा है। अवैध खनन घोटाला, शराब घोटाला, रजिस्ट्री घोटाला, भर्ती घोटाला समेत कई दर्जन घोटाले इस सरकार ने अंजाम दे डाले। फरीदाबाद नगर निगम में 200 करोड़ का घोटाला कर दिया। कागजों पर ही काम हो गया और सारा पैसा डकार गए। दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि बीजेपी-जेजेपी ने 2019 के चुनाव में 5100 रुपये बुढ़ापा पेंशन देने का नहीं बल्कि प्रदेश को लूटने और कौन किस महकमे से ज्यादा लूट करेगा इस बात का समझौता किया था।

इस मौके पर रैली के आयोजक एवं कांग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला ने कडक़ड़ाती गर्मी के बावजूद रैली में हजारों-हजारों की संख्या में पहुंचे लोगों का दिल की गहराईयों से आभार व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा को बताया कि कहने को फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र स्मार्ट सिटी में आता है, लेकिन यहां के हालात बद से बदत्तर है, टूटी सडक़ें, सीवरेज का बहता पानी यहां की कहानी बयां करते है। उन्होंने कहा कि यहां के लोग अपने आशियानों को लेकर चिंतित है, उन्होंने मंच से श्री हुड्डा से मांग की कि यह तो तय है कि आने वाले छह महीने बाद आप प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे, तब इस बदहाल फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र को फिर से चहुंमुखी विकास की ओर लेकर जाए और हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनने पर पहली कलम से यहां के लोगों के आशियानों को पक्का करने का काम कर दे, यहां के लोग फरीदाबाद से कांग्रेस को भारी बहुमत से जिताकर भेजेंगे।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से नूंह के विधायक एवं फरीदाबाद के प्रभारी आफताब अहमद, विधायक नीरज शर्मा, विधायक कुलदीप वत्स, पूर्व सीपीएस शारदा राठौर, पूर्व विधायक ललित नागर, रघुबीर तेवतिया, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता विजय प्रताप, यशपाल नागर, गुलशन बग्गा, नितिन सिंगला, ठाकुर राजा राम, वेदपाल दायमा, कृष्ण अत्री, प्रवक्ता नीरज गुप्ता, मुकेश शर्मा, तरुण तेवतिया, राजेश खटाना, संजय सोलंकी, विनय राठौर, युद्धवीर झा, डालचंद डागर, पूर्व चेयरमैन बालकृष्ण वशिष्ठ, राजेंद्र भामला, कंवर बालू सिंह, विनय भाटी समेत महिला कांग्रेस, सेवादल, यूथ कांग्रेस, एनएसयूआई, फ्रंट संगठनों, प्रकोष्ठों, विभागों के पदाधिकारी, जिलों के वरिष्ठ नेता कार्यकर्ता और बड़ी तादाद में स्थानीय लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here