सावित्री पॉलिटेक्निक फॉर वूमैन में मनाया हरियाली तीज व 72वां स्वतंत्रता दिवस

0
1316
Spread the love
Spread the love

Faridabad News : नेहरू ग्राउंड स्थित सावित्री पॉलिटेक्निक फॉर वूमैन में हरियाली तीज व देश की आज़ादी की 72वीं वर्षगांठ बड़े ही धूमधाम से मनायी गई। इस अवसर पर संस्थान के चैयरमेन एस एन दुग्गल व प्रधानाचार्य श्रीमती कमलेश शाह ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर पॉलिटेक्निक की छात्राओं ने देश भक्ति गीत “ऐ मेरे वतन के लोगो” मेरे देश की धरती, दुल्हन चली व देश मेरा रंगीला जैसे गीत पर नृत्य करते हुए आजादी के लिए शहीद हुए सैनानियों को श्रृद्धांजली दी। वहीं छात्राओं ने अपने चेहरे पर तिरंगा झंडा बनाकर आज़ादी की 72वीं वर्षगांठ का जश्न मनाया। इस मौके पर छात्राओं ने पारंपरिक वेशभूषा पहनकर हरियाली तीज व सावन के गीतों पर खूब नृत्य किया। इस अवसर पर छात्राओं ने हाथों पर मेहंदी लगाई। इस अवसर पर संस्था के चैयरमेन एस एन दुग्गल ने कहाकि आज हम जिस खुली हवा में सांस ले रहे हैं और हम जिस आज़ादी की 72वीं वर्षगांठ का जश्न मना रहें हैं यह उन शहीदों की कुबार्नी है जो अपने पीछे रोते बिलखते परिवार को छोड़ कर देश के आज़ादी के लिए दुश्मनों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए। उन्होंने कहा कि 200 साल की गुलामी के बाद हम आजाद हुए थे। श्री दुग्गल ने कहाकि आज के दिन हम देश पर मर मिटने वाले शहीदों को शत-शत नमन करते हैं उन्होंने छात्रोओं को आवाहन किया की वे अपनी आवाज को बुलंद कर देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझें और यह प्रण ले कि उनकी कुबार्नी को व्यर्थ नहीं जाने देंगे। इस अवसर पर संस्थान की प्रधानाचार्य कमलेश शाह ने कहा कि हरियाली तीज इसे इसलिए कहा जाता है क्योकि परपंरा के अनुसार तीज सभी पर्वो के शुरूआत की प्रतीक मानी जाती है और तीज खुशियों व उमंग का त्यौहार है। इस दिन महिलाएं अपने हाथों पर मेहँदी लगाकर सावन के गीत गाकर झूला झूलती है। उन्होंने कहा कि भारत धार्मिक एवं त्यौहारों का देश है और यहां हर साल अपने साथ कई त्यौहार भी लेकर आता है। सावन के महीने में हरियाली मनाई जाती है। उन्होंने सभी छात्राओं को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर संस्थान की टीचर रीटा शर्मा, नीता गोसाई, रितु पूरी, नीलम गुप्ता, मंजू कोहली, मीना ठाकुर, विनीता, दिव्या सभी ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई । कार्यक्रम के अंत में शहीदों को श्रृद्धांजली देने के उपरांत राष्ट्रीय गान गाकर कार्यक्रम का सम्मापन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here