नारी शक्ति को अपमानित करने वाले नेताओं का बहिष्कार हो : मनीष शर्मा

0
1024
Spread the love
Spread the love

Faridabad News : विश्व ब्राह्मण संघ के मनीष शर्मा ने कहा कि धर्मवीर भड़ाना ने जिस तरह अभद्र भाषा का प्रयोग किया और वह राखी की लाज भी नहीं रख पाये, अपनी राजनीति चमकाने के लिए अपनी धर्म बहन विधायक सीमा त्रिखा को अभद्र शब्दों का इस्तेमाल करके भाई-बहन के रिश्ते को तार-तार कर दिया। वहीं समाज की सभी नारियों का अपमान किया है। नारी के सम्मान की बात करने वाले अरविंद केजरीवाल की पार्टी के नेता ने जिस तरह नारी शक्ति को अपमानित करने का काम किया उससे आम आदमी पार्टी के चेहरे की असलियत उजागर हो गई है।

श्री शर्मा ने कहा कि धर्मवीर भड़ाना जिस तरह से अपनी राजनीति को चमकाने के लिए भारतीय सभ्यता और नैतिकता को भूल गए इससे महिलाओं में भारी रोष है। समाज ऐसे नेताओं का बहिष्कार करे जो नेता महिलाओं का अपमान करे। धर्मवीर भड़ाना पर कड़ी कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए। वहीं विश्व ब्राह्मण संघ से केन्द्र प्रकाश शर्मा ने कहा कि समाज में नारी का अपमान करना मूर्खता की निशानी है। जहां पर नारी का अपमान होता है वहां से सभी देवी-देवता नाराज हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि मैंने कहीं कविता पढ़ी थी कि- अब भी सम्हल जा, मत कर, नारी का अपमान। कुल देवी, कुल की रक्षक, कुल गौरव है। बहिन, बहू, माता, बेटी यही सौरव है। वंश चलाने को, वह बेटा-बेटी जनती, इसका निरादर, इस धरती पर रौरव है। बिन इसके हो जाए न, घर-घर सुनसान। अब भी सम्हल जा, मत कर, नारी का अपमान। विश्व ब्राह्मण संघ महिलाओं पर बोले गए अप-शब्दों की निन्दा करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here