7th ऑल इंडिया रविंदर फागना यूथ क्रिकेट कप टूर्नामेंट 2021 का आयोजन

0
984
Spread the love
Spread the love

Faridabad News, 16 March 2021 : रविंद्र फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब क़े प्रयास द्वारा 23 मार्च  2021 से शुरू पाली फ़रीदाबाद और सोहना गुरुग्राम सिथ्त रविंदर फागना क्रिकेट अकादमी मैदान पर कराया जाएगा। विजेता टीम को 51 हजार व ट्रॉफी और उपविजेता टीम को 25000 हजार व ट्रॉफी प्रदान की जाएगी। मैन ऑफ द मैच हर मैच में व मैन ऑफ द सीरीज और बेस्ट गेंदबाज, बेस्ट बल्लेबाज व् बेस्ट फील्डर  को ट्रॉफी व इंडिविजुअल प्राइज दिया जाएगा। रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब के प्रधान सतीश फागना ने बताया कि इसके अलावा प्रतियोगिता के दाैरान उभरते हुए 10 खिलािड़यों को भी सम्मानित किया जाएगा व 20 जरूरतमंद खिलाड़ी बच्चों को उनकी जररूत के हिसाब से क्रिकेट का सामान दिया जाएगा।

रवीन्द्र फागना टूर्नामेंट चेयरमैन कवीन्द्र चौधरी ने बातया की टूर्नामेंट मै 20 टीम भाग ले रही है और 4 पॉल बनाये जाएँगे ओर हर टीम को 5 लीग मैच मेले गए, हर पूल से 2 टीम qualify करे गई क्वार्टर फाइनल में, इसमें आल इंडिया खिलाडी भाग लेंगे I यह मैच 40 -40 ओवर कराए जाएंगे और यूट्यूब लाइव मैच देखने को मिलेंगे व् इस मैच मैं इंडिया खिलाडी और आईपीएल व् रणजी  खिलाडी भी आएंगे I अबतक आल इंडिया स्तर पर कई टूर्नामेंट रविंदर फागना स्पोर्ट्स प्रमोशन क्लब करवा चुकी है चेयरमैन कविंदर फागना ने बताया कि मेरा छोटा भाई स्वर्गीय रविंद्र फागना का जन्म 25 नवंबर 1976 गांव भांकरी फरीदाबाद में हुआ था स्वर्गीय रविंद्र फागना उन्होंने उन्होंने यह पैदल चाल एथलीट नाहर सिंह से की थी और उनके कोच रमेश पाल ओर नरसिंह राम ने रविंदर फागना को पैदल चाल की गुरु शिक्षा दी रविंदर ने जिला स्तर पर जगह प्राप्त की और उसके बाद राज्य स्तर पर जगह बनाई और फिर उत्तर भारत में प्रथम स्थान पर लगातार दो साल तक कायम रहे उसके बाद संपूर्ण भारत के पांचों जोड़ों में प्रथम स्थान प्राप्त किया और लगातार दो बार संपूर्ण भारत में प्रथम स्थान पर बने रहें सन 1995 में रविंद्र फागना का एशियाई खेल इंडोनेशिया के लिए चुने गए जिसमें जिला स्तर पर जगह प्राप्त की और उसके बाद राज्य स्तर  पर जगह बनाई और उत्तर भारत में प्रथम स्थान पर लगाता 2 साल तक कायम रहे उसके बाद संपूर्ण भारत के पांचों जोनो में प्रथम स्थान प्राप्त किया और लगातार दो बार संपूर्ण भारत में प्रथम स्थान पर बने रहे 54 खिलाड़ियों के साथ पांच कोच टाटा नगर जमशेदपुर में कैंप में भाग लेने के लिए दिल्ली से रवाना हो गए इसी तरह रविंद्र फागना ने पैदल चाल में अपना नाम रोशन किया साथ में फरीदाबाद का भी नाम रोशन किया और 20 अगस्त 1995 में एक अनहोनी दुर्घटना हुई जिसमें 54 खिलाड़ी जमशेदपुर कैम्प से दिल्ली वापस आ रहे थे परषोत्तम एक्सप्रेस 5 नंबर कोच  डिब्बे में बैठे खिलाड़ी आराम से वापस अपने  घर आ रहे थे तभी बीच में फिरोजपुर उत्तर प्रदेश स्टेशन के पास दुर्घटना में 54 उदयमान खिलाड़ी में 37 खिलाड़ियों को परमात्मा ने अपने आगोश में ले लिया उसमें एक खिलाड़ी रविंदर फागना भी थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here