फरीदाबाद बार एसोसिएशन द्वारा वकीलों के सम्मान के लिए समारोह का आयोजन

0
1174
Spread the love
Spread the love

Faridabad News : फरीदाबाद के अतिरिक्त जिला न्यायाधीश वाई एस राठौर ने कहा है कि अधिवक्ता वास्तव में ऐसे प्रोफैशन से जुड़े हैं जो समाज की गारिमा को बनाए रखने का है। आपने कहा कि प्रोफैशनल सेवा में 50 वर्ष का सफर काफी महत्व रखता है। ऐसे में इनका सम्मान एक अनुकरणीय पहल है।

फरीदाबाद के अतिरिक्त जिला न्यायाधीश वाई एस राठौर ने कहा है कि अधिवक्ता वास्तव में ऐसे प्रोफैशन से जुड़े हैं जो समाज की गारिमा को बनाए रखने का है। आपने कहा कि प्रोफैशनल सेवा में 50 वर्ष का सफर काफी महत्व रखता है। ऐसे में इनका सम्मान एक अनुकरणीय पहल है। यहां फरीदाबाद बार एसोसिएशन द्वारा आयोजित वकीलों के सम्मान समारोह में अपने विचार व्यक्त करते श्री राठौर ने कहा कि 50 वर्ष सेवा उपरांत अधिवक्ताओं को जो सम्मान दिया गया वह वास्तव में सराहनीय है। आपने इस हेतु फरीदाबाद बार एसोसिएशन की मुक्तकंठ से सराहना की।

अतिरिक्त जिला न्यायाधीश सुश्री कंचन माही ने अपने संबोधन में कहा कि बार और बैंच एक दूसरे से जुड़े पहलू हैं ऐसे में वकीलों को सम्मानित करना दोनों के लिये गौरव की बात है।

जिला उपायुक्त श्री समीर पाल सरो ने वरिष्ठ अधिवक्ताओं जिन्हें बार द्वारा 50 वर्ष सेवाओं के लिये सम्मानित किया गया को बधाई देते कहा कि उन्हें अपने अनुभवों को नई पीढ़ी तक पहुंचाना चाहिए ताकि आने वाला समय लॉ एंड आर्डर के लिये और अधिक प्रभावी रहे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरैशी ने कहा कि बार और बैंच ही नहीं बल्कि पुलिस प्रशासन भी इस प्रक्रिया का एक हिस्सा हैं और उन्हें इस बात की प्रसन्नता है कि वे वकीलों के सम्मान समारोह में शामिल हुए।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए फरीदाबाद बार एसोसिएशन के प्रधान संजीव चौधरी ने कहा कि वकीलों की समाज और देश के प्रति भागीदारी कोई नई बात नहीं है बल्कि स्वतंत्रता की लड़ाई में भी वकीलों की भागीदारी उल्लेखनीय रही। आपने कहा कि 50 वर्ष प्रोफैशन में देने वाले अधिवक्ताओं को सम्मानित करने का उद्देश्य इस व्यवसाय की गारिमा को दर्शाना और उन लोगों को सम्मान देना है जिन्होंने व्यक्तिगत व निजी सुख-दु:ख से ऊपर सेवा को अपना जीवन बनाया है।

इस अवसर पर बार की ओर से 50 वर्ष की सेवा के लिये सर्वश्री एस सी माना, अमरजीत चड्ढा, पी पी छाबड़ा, पी सी मस्ता, श्योताज बहादुर नागर, रामकुमार गुप्ता, ओ पी आहुजा, मोती सागर वशिष्ट, कंवर रतन सिंह, पी पी गुप्ता को सम्मानित किया गया जबकि आनंद गुप्ता को विषम परिस्थितियों में कार्य जारी रखने के लिये सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में फरीदाबाद में कार्यरत ज्युडिशियल अधिकारियों की उपस्थिति विशेष रूप से उल्लेखनीय रही। इस अवसर पर वरिष्ठ भाजपा नेता राजेश नागर सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here