लिंग्याज इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ साइंसिस में लगा कोविड वैक्सीनेशन कैंप

0
526
Spread the love
Spread the love

Faridabad News, 09 July 2021 : कोविड-19 की इस बड़ती महामारी से बचने के लिए ना केवल देश का स्वास्थय विभाग बल्कि शिक्षा विभाग भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसी क्रम में (LIHS) लिंग्याज इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ साइंसिस ने अपने प्रागण में कोविड वैक्सीनेशन कैंप लगाया। जिसमें लिंग्याज विद्यापीठ के अब तक जिन एम्पलॉइज को वैक्सीन नहीं लग पाई उन सभी को वैक्सीन लगाई गई। इतना ही नहीं उनके परिवार के सदस्यों को भी वैक्सीन लगाई गई। कैंप में 18 साल से लेकर 60 साल तक के लोगों को कोविशील्ड लगाई गई। LIHS ने CHC (सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र) खेड़ी कलां के साथ जुड़कर इस कार्य को पूरा किया गया।

इतना ही नहीं LIHS अब तक पहले 3 कैंप और लगवा चुका है। कैंप में सुबह 10 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक लोगों को कोविशील्ड लगाई गई। यूनिवर्सिटी ने अपने एम्पलॉइज के साथ-साथ उनके परिवार का भी वैक्सीनेशन करवाया। ताकि सबका परिवार इस महामारी से बचा रहें। स्कूल के डाइरेक्टर भाविक कुचिपुड़ी ने बताया कि पहले लगाएं गए तीनों वैक्सीनेशन कैंप में हमें अच्छा रिस्पोंस मिला हैं और इस बार भी कैंप अच्छा रहा। लिंग्याज में काम कर रहें सभी एम्पलॉइज और उनके परिवार की जिम्मेदारी हमारी है। इस समय सबसे महत्वपूर्ण यहीं है कि सभी कोविड वैक्सीन लगवायें और एक दूसरे का साथ निभायें। वही स्कूल की प्रिंसिपल प्रोफेसर पदमावती सामी का कहना है कि इस वैक्सीन के लिए CHC खेड़ी कलां, SMO डॉ. हरजिंदर सिंह व डॉ. वंदना और उनकी टीम ने हमें अपना पूरा सहयोग दिया। हमारे पास कैंप में जीतने भी लोग वैक्सीन लगवाने आएं। हमारी टीम ने सभी को यहीं कहा है कि हम सभी को इस वैक्सीन को लगवाना बहुत जरूरी है। सभी जागरूक रहें और अपना व अपने बच्चों का ख्याल रखें।

क्या है CHC
CHC (सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र) एक स्वास्थ्य सेवा है जो राज्य भर में संचालित होते हैं और स्थानीय आबादी के लिए विशेष रूप से उन सेवाओं और स्वास्थ्य संवर्धन गतिविधियों को प्रदान करने का लक्ष्य रखतें हैं, जो स्वास्थ्य विभाग से सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यक्रम निधि प्राप्त करती हैं। लगभग 350 साइटों से विक्टोरिया में लगभग 100 सीएचएस संचालित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here