भाजपा नेता व 2 बेटों पर 12.76 करोड़ की धोखाधड़ी का केस दर्ज

0
1338
Handcuffs frame the word 'fraud' among newspaper cuttings
Spread the love
Spread the love

Gohana News : गोहाना सिटी थाने में मंगलवार को भाजपा नेता ठेकेदार जयसिंह व उनके 2 बेटों-वीरेन्द्र सिंह व नरेन्द्र कुमार के खिलाफ 12.76 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का केस दर्ज किया। यह केस नई दिल्ली के मुकेश कुमार ने एक कम्पनी के निदेशक मंडल द्वारा अधिकृत प्रतिनिधि की हैसियत से दर्ज करवाया है।

मामला माइनिंग का रिफंड अनधिकृत और गलत तरीके से हासिल करने और उसे आगे असम्बद्ध व्यक्तियों को ट्रांसफर करने पर है। केस में ऑरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की भूमिका पर भी संदेह जाहिर किया है। यह केस वी.एन.एस. इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के हरियाणा सरकार द्वारा रद्द कर दिए गए खनन के ठेके के रिफंड से सम्बन्धित है।

भारतीय दंड संहिता की धारा 120बी, 34, 409, 465, 468, 420 व 177 के तहत दर्ज किया गया है। यह केस ठेकेदार जयसिंह, उनके बेटे नरेन्द्र कुमार और वीरेन्द्र सिंह के साथ रोहतास, कर्मसिंह और कर्णसिंह के खिलाफ भी है। केस में आरोप लगाया गया है कि अवैध तरीके से हासिल किए गए 12.76 करोड़ रुपए के रिफंड में से 12.63 करोड़ की राशि को ऐसे व्यक्तियों के खाते में ट्रांसफर भी कर दिया गया जिनका कम्पनी से कोई सरोकार नहीं है।

मुद्दई मुकेश कुमार के अनुसार 2015 में ठेकेदार जयसिंह और उनके बेटे नरेन्द्र कुमार ने अपनी कम्पनी वी.एन.एस. इन्फ्रॉस्ट्रक्चर के पूरे शेयर एंथेला इन्फ्रॉस्ट्रक्चर को बेच दिए। इस कम्पनी के जो 6 निदेशक हैं, उनमें से 2 निदेशक ठेकेदार जयसिंह और नरेन्द्र कुमार भी हैं।

मुकेश कुमार का कहना है कि सोनीपत जिले के 4 खंडों में खनन का ठेका वी.एन.एस. कम्पनी ने लिया था। इस ठेके को राज्य सरकार ने रद्द कर दिया। पूरे शेयर बेचने के बाद ठेकेदार जयसिंह और उनके बेटे नरेन्द्र का खनन कार्य से कोई लेना-देना नहीं था।

इसके बावजूद ठेका रद्द होने के बाद फर्जी दस्तावेजों से उन्होंने प्रदेश के खनन और भूगर्भ विभाग से 12.76 करोड़ का रिफंड अकेले अपने नाम से हथिया लिया। इतना ही नहीं, इस रकम में से 12.63 करोड़ ऐसे व्यक्तियों को ट्रांसफर कर दिए गए जिनका कम्पनी से कोई वास्ता नहीं है।

कम्पनी की जानकारी में यह मामला 13 अक्तूबर, 2017 को तब सामने आया जब कम्पनी के 3 निदेशक-समीर दर्जी, हितेन राणा और विशाल भटनागर ऑरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की गोहाना शाखा में पहुंचे। 6 नवम्बर, 2017 को दिल्ली में हुई निदेशक मंडल की बैठक में मुकेश कुमार को अधिकृत कर दिया गया कि वह कम्पनी के अधिकृत प्रतिनिधि के रूप में ठेकेदार जयसिंह और अन्य के खिलाफ केस दर्ज करवाएं।

जब इस बारे में भाजपा नेता ठेकेदार जयसिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मेरे नॉलेज में कुछ नहीं है। मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। जबकि गोहाना सिटी के एस.एच.ओ. कुलदीप देशवाल का कहना है कि मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here