‘‘कारदेखो के सीईओ अमित जैन ने गिरनार एलीवेट समिट 2024 में लोगों को प्रेरणा देते हुए भारत में उद्यमिता के जोश को बढ़ावा दिया’’

0
62
Spread the love
Spread the love
New Delhi 2024: कारदेखो ग्रुप ने गिरनार एलीवेट समिट 2023 की जर्बदस्‍त सफलता के बाद, इसके दूसरे संस्‍करण गिरनार एलीवेट समिट 2024 का आयोजन किया। दो दिन का यह आयोजन जून के पहले हफ्ते में जयपुर स्थित कंपनी के मुख्‍यालय में हुआ। इसका मकसद उन 30 से ज्‍यादा कंपनियों को सशक्‍त करना था, जिनमें अमित जैन ने शार्क टैंक इंडिया और दूसरे माध्‍यमों से निवेश किया है। समिट में विभिन्‍न कार्यक्षेत्रों पर अलग-अलग सत्रों का संचालन किया गया। इनमें भारत 2.0 के निर्माण के लिये संस्‍थापकों  से निजी तौर पर जुड़ने और उनका मार्गदर्शन करने के‍ लिये श्री जैन की गहन प्रतिबद्धता नजर आई।
निवेश के बाद मार्गदर्शन और मेंटॉरशिप की महत्‍वपूर्ण भूमिका होती है, जिसके साथ कंपनियाँ तरक्‍की और सफलता का ब्‍लूप्रिंट बनाती हैं। गिरनार एलीवेट समिट एक बेहतरीन फोरम है, जो इन कंपनियों को जानकारी बढ़ाने और सफल उपक्रमों के निर्माण की रणनीतियाँ बेहतर बनाने के‍ लिये सशक्‍त करता है।
इस आयोजन के पहले दिन की शुरूआत तरह-तरह के सत्रों से हुई, जिससे उद्यमियों को व्‍यवसाय तैयार करने और उसे बढ़ाने के बारे में अहम जानकारियाँ मिलीं। इस कार्यक्रम की शुरुआत कारदेखो ग्रुप के सीईओ और सह-संस्‍थापक अमित जैन के ज्ञानवर्द्धक सत्र के साथ हुई। उन्‍होंने व्‍यवसाय बढ़ाने पर जानकारियाँ प्रदान कीं। जैन ने सही मौके पहचानने, असरदार प्‍लेबुक बनाने और व्‍यवसाय की वृद्धि के लिये उन्‍नत टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल करने के महत्‍व पर जोर दिया। इसके बाद कारदेखो ग्रुप के सीओओ और सह-संस्‍थापक अनुराग जैन ने एक मजबूत और भविष्‍य के लिये तैयार संस्‍था बनाने पर प्रेरक सत्र का संचालन किया और अपनी उद्यमिता की यात्रा के बारे में बताया।
पूरे दिन उत्‍साह से भरे सत्रों का संचालन जारी रहा। इनमें एक पुरस्‍कार-विजेता वायरल वीडियो मार्केटर का ‘द आर्ट ऑफ वायरल मार्केटिंग’, एक्सिस बैंक के लीडर्स की स्‍टार्टअप फाइनेंसिंग पर जानकारियाँ, ब्‍लूस्‍टोन जूलरी के संस्‍थापक एवं सीईओ द्वारा ओम्‍नीचैनल डी2सी ब्राण्‍ड बनाने का मार्गदर्शन और इंफ्लेक्‍शन पॉइंट वेंचर्स के लीडर्स द्वारा फंड जुटाने की रणनीतियाँ शामिल थीं।
इस आयोजन का मकसद ब्राण्‍ड्स को सशक्‍त करना और ऐसी संस्‍थाएं बनने में उनकी मदद करना था, जो भारत में उद्यमिता के परितंत्र पर एक विरासत का निर्माण करें। पहला दिन जोश से भरा रहने के बाद समिट के दूसरे दिन बड़े पैमाने की संस्‍था बनाने के पहलूओं पर विचार किया गया। इसमें कानून, वित्‍त, अनुपालन तथा एचआर से जुड़े सत्र थे। दूसरे दिन की शुरुआत जोरदार सत्रों के साथ हुई, जैसे कि मेकमायबुक्‍स के सीईओ द्वारा मजबूत वित्‍त एवं अनुपालन कार्यों पर सत्र, साइनैप्‍स पार्टनर्स के संस्‍थापक द्वारा कानूनी रूपरेखा का मार्गदर्शन, रीजेनेसिस के ग्‍लोबल नेटवर्क लीड द्वारा एचआर टीम बनाने पर मार्गदर्शन और कॉफीमग के सीईओ द्वारा एक सही सह-संस्‍थापक को खोजने पर जानकारियाँ दी गईं।
यह आयोजन मिनिमलिस्‍ट के संस्‍थापकों द्वारा डी2सी टेक स्‍टैक में क्षमता बढ़ाने के एक ज्ञानवर्द्धक सत्र के साथ जारी रहा। इसका समापन क्रैक-ईडी के सह-संस्‍थापक द्वारा सही प्रतिभा को नियुक्‍त करने के मंत्रों से हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here