विद्या व्यक्ति के ऐसे संस्कार हैं जो उसके जीवन भर काम आते हैं : डॉ. एमपी सिंह

0
175

FaridabadNews, 18 Sep 2021 : सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम प्रांगण में संचालित होने वाले स्वामी सुदर्शनाचार्य वेद वेदांग संस्कृत महाविद्यालय में मशहूर शिक्षक डॉ एमपी सिंह ने व्याख्यान दिया। उन्होंने बच्चों को कहा कि वह मन लगाकर शिक्षा ग्रहण करें क्योंकि शिक्षा ही है जो उनके जीवन भर काम आएगी।
गौरतलब है कि महाविद्यालय में बच्चों को हॉस्टल की सुविधा के साथ समस्त सुविधाएं निशुल्क प्रदान की जाती हैं। यहां पर बच्चों को शास्त्री तक निशुल्क पढ़ाई कराई जाती है। इसके अलावा 7 वर्षीय वेद का कोर्स भी यहां पढाया जाता है जिन्हें बच्चे यहां रहकर ही पूरा करते हैं। यह पूरी व्यवस्था श्री सिद्धदाता आश्रम के अधिपति अनंत श्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगद्गुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य महाराज के दिशा निर्देशन में संचालित हो रही है।

इस अवसर पर प्रोफेसर एमपी सिंह ने कहा कि शिक्षा से बढ़कर कोई ज्ञान नहीं है और शिक्षा से बढ़कर कोई दान नहीं है। उन्होंने कहा कि शिक्षा व्यक्ति के मनोभावों को मजबूत आधार देती है। शिक्षित व्यक्ति न केवल सीखते हुए आगे बढ़ता है बल्कि दूसरों को सिखाते हुए भी आगे बढ़ता है।

इस अवसर पर नव प्रवेश पाने वाले बच्चों को भी यहां की व्यवस्था के बारे में जानकारी दी गई। कार्यक्रम में महाविद्यालय संचालन समिति के सदस्य, प्रधानाचार्य, शिक्षक, छात्र एवं अभिभावक भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here