एनआईटी विस के ग्रामीण हलकों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी: राकेश भड़ाना

0
1056

Faridabad News : एनआईटी विधानसभा में मुख्यमंत्री द्वार ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए की गई 20 करोड़ की घोषणाएं आज भी ज्यों की त्यों हैं, विकास के नाम पर गांवों में एक भी ईंट नहीं लगी है। जिससे एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण हलके के लोगों में सरकार के प्रति भारी रोष है। सरकार की इस वादाखिलाफी और ग्रामीण आंचल की अनदेखी को लेकर जल्द ही सरकार के खिलाफ बड़ा प्रदर्शन किया जाएगा। उक्त वक्तव्य ओबीसी विभाग के चेयरमैन राकेश भड़ाना ने डबुआ कॉलोनी में आयोजित एक कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की घोषणाएं केवल कागजों तक ही सिमटकर रह गई है, विकास का दावा करने वाली सरकार की पोल खुल चुकी है। मुख्यमंत्री द्वारा रैली में एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्र के लिए की गई 20 करोड़ की घोषणाओं पर अभी काम भी शुरू नहीं किया गया है। श्री भड़ाना ने कहा कि ‘जीरो परसेंट टोलरेंस नीति’ की बात करने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री आज अपने आपको असहाय महसूस कर रहे हैं। न तो वो भ्रष्टाचार पर ही लगाम लगा पाए और न ही बेलगाम अफसरशाही पर।

राकेश भड़ाना ने कहा कि एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में हालात इतने खराब हैं कि सर्दी के मौसम में भी लोगों को पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है, तो गर्मियों में तो आप सोच सकते हैं, क्या हालात होते होंगे। सीवरों का पानी सडक़ों पर बह रहा है, जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं। उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी के नाम पर बेवकूफ बनाया जा रहा है, स्मार्ट सिटी तो क्या फरीदाबाद को सिटी भी नहीं छोड़ा है। राकेश भड़ाना ने कहा कि क्षेत्रीय विधायक भाजपा खेमे में जा बैठे हैं, उसके बावजूद एनआईटी क्षेत्र के विकास की ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। लोग बुनियादी सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं और अधिकारी अपनी आंखें मूंदे बैठे हैं। इस मौके पर स्थानीय लोगों ने श्री भड़ाना को अपनी समस्याओं से अवगत कराते हुए बताया कि वो कई बार अपनी समस्याओं को लेकर स्थानीय नेताओं से मिल चुके हैं, मगर उनकी समस्याओं पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here