स्मृति ज़ुबिन ईरानी ने क्यूएस आई-गेज शैक्षिक उत्कृष्टता कॉन्क्लेव में एमआरयू और एमआरआईआईआरएस को ‘इंस्टीट्यूट ऑफ हैप्पीनेस’ पुरस्कार से सम्मानित किया

0
40

13 मई, 2022 फरीदाबाद – मानव रचना यूनिवर्सिटी और मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ को इंडिया हैबिटेट सेंटर,नई दिल्ली में आयोजित क्यूएस आई-गेज (QS I-Gauge) शैक्षिक उत्कृष्टता कॉन्क्लेव में शैक्षणिक वातावरण में खुशी को बढ़ावा देने के लिए ‘इंस्टीट्यूशंस ऑफ हैप्पीनेस’ पुरस्कार मिला है।

इस सर्वेक्षण में देश भर से कुल 100 संस्थानों ने भाग लिया और केवल 33 संस्थान ‘इंस्टीट्यूशंस ऑफ हैप्पीनेस’ पुरस्कार प्राप्त करने के लिए योग्य पाए गए ।

यूके स्थित QS, Quacquarelli Symonds के इंडियन सब्सिडियरी, QS I-GAUGE ने एक कठोर मूल्यांकन अभ्यास के बाद भारत के सबसे खुशहाल शैक्षणिक संस्थानों की घोषणा की, जो पिछले साल दिसंबर में इंडस्ट्री बॉडी ASSOCHAM के सहयोग से शुरू हुआ था।

माननीय केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ज़ुबिन ईरानी ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पुरुस्कार वितरण किया। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा, “यह महत्वपूर्ण है कि शिक्षक छात्रों की खुशी के स्तर, उनकी भलाई, जीवन की गुणवत्ता, स्थिरता में जुड़ाव और सामाजिक परिवर्तन परियोजनाओं में अंतर्दृष्टि प्राप्त करें, जो संस्थानों को बेहतर परिणामों के लिए आगे बढ़ने में सक्षम बनाएगा।”

इस आयोजन में, मानव रचना यूनिवर्सिटी ने क्यूएस आई-गेज समग्र डायमंड रेटिंग के लिए प्रमाण पत्र भी प्राप्त किया, जो शिक्षण और सीखने, संकाय गुणवत्ता, रोज़गार योग्यता, सामाजिक ज़िम्मेदारी, अनुसंधान, उद्यमिता, नवाचार, खेल, कला और संस्कृति के अंतर्राष्ट्रीयकरण से लेकर विभिन्न श्रेणियों में फैले 100 से अधिक संकेतकों में कठोर मूल्यांकन के बाद एक संस्थान को दिया जाता है।

एमआरयू को टीचिंग एंड लर्निंग, फैकल्टी क्वालिटी, फैसिलिटीज और सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी के लिए क्यूएस आई-गेज डायमंड रेटिंग एवं रोज़गार योग्यता और शैक्षणिक विकास के लिए क्यूएस आई-गेज प्लेटिनम रेटिंग से सम्मानित किया गया है।

कर्नल गिरीश कुमार शर्मा – एक्सिक्यूटिव डायरेक्टर, इंटरनेशनल अफेयर्स ने MRIIRS की ओर से पुरस्कार स्वीकार किया। MRIIRS शिक्षण, रोज़गार, शैक्षणिक विकास, सुविधाओं, सामाजिक उत्तरदायित्व और समावेशिता के लिए QS-5 स्टार रेटेड संस्थान है।

MRU की तरफ से प्रोफेसर (डॉ.) आई.के. भट – कुलपति, एमआरयू; प्रोफेसर (डॉ.) धर्मेंद्र एस. सेंगर – प्रो-वाइस चांसलर, एमआरयू और डॉ संगीता बांगा – डीन एकेडमिक्स, एमआरयू पुरस्कार प्राप्त करने के लिए उपस्थित थे।

QS I-GAUGE के सीईओ और निदेशक डॉ अश्विन फर्नांडीस ने कहा, “शिक्षा प्रदान करने में गुणवत्ता और उत्कृष्टता का बहुत महत्व है, क्योंकि वे शिक्षार्थियों की क्षमताओं को बढ़ाते हैं जो अविकसित और विकसित देशों के बीच अंतर को कम करेंगे। यह प्रत्येक हितधारक की भागीदारी के बिना संभव नहीं है। QS I-GAUGE इस कारण से भारतीय संस्थानों को वैश्विक विशेषज्ञता प्रदान करने में सक्रिय रूप से शामिल है।”

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान जिसमें मानव रचना यूनिवर्सिटी (एमआरयू), मानव रचना डेंटल कॉलेज (एमआरडीसी), मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ (एमआरआईआईआरएस) और मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल शामिल हैं, निरंतर उत्कृष्टता की ओर बढ़ रहे हैं एवं विकास और खुशी को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here