वरिष्ठ उपमहापौर ने किया नगर निगम से बनवाए छट घाटों का औचक निरीक्षण

0
826

Faridabad News : नगर निगम के वरिष्ठ उपमहापौर देवेंद्र चौधरी एवं पूर्व पार्षद व सदस्य प्रदेश भाजपा सुशासन विभाग ओमप्रकाश रक्षवाल ने नहर पार  सेहतपुर पुल के पास श्याम कलोनी, सूर्या नगर फ़ेस 2, ओम इंकलेव, में नगर निगम से बनवाए छट घाटों का औचक निरीक्षण किया।  नगर निगम के वरिष्ठ उपमहापौर देवेंद्र चौधरी एवं पूर्व पार्षद व सदस्य प्रदेश भाजपा सुशासन विभाग ओमप्रकाश रक्षवाल ने नहर पार  सेहतपुर पुल के पास श्याम कलोनी, सूर्या नगर फ़ेस 2, ओम इंकलेव, में नगर निगम से बनवाए छट घाटों का औचक निरीक्षण किया।

इस अवसर पर उपस्थितजनों को सम्बोधित करते हुए देवेन्द्र चौधरी ने कहा कि  छठ पर्व या छठ कार्तिक शुक्ल पक्ष के षष्ठी को मनाया जाने वाला एक हिन्दू पर्व है। सूर्योपासना का यह अनुपम लोकपर्व मुख्य रूप से पूर्वी भारत के बिहार, झारखण्ड, पूर्वी उत्तर प्रदेश और नेपाल के तराई क्षेत्रों में मनाया जाता है। प्राय: हिन्दुओं द्वारा मनाये जाने वाले इस पर्व को इस्लाम सहित अन्य धर्मावलम्बी भी मनाते देखे गये हैं।धीरे.धीरे यह त्योहार प्रवासी भारतीयों के साथ.साथ विश्वभर में प्रचलित हो गया है।

इस मौके पर ओमप्रकाश रक्षवाल ने भी अपने सम्बोधन में कहा कि भारत में सूर्योपासना के लिए प्रसिद्ध पर्व है छठ। मूलत: सूर्य षष्ठी व्रत होने के कारण इसे छठ कहा गया है। यह पर्व वर्ष में दो बार मनाया जाता है। पहली बार चैत्र में और दूसरी बार कार्तिक में। चैत्र शुक्ल पक्ष षष्ठी पर मनाये जाने वाले छठ पर्व को चैती छठ व कार्तिक शुक्ल पक्ष षष्ठी पर मनाये जाने वाले पर्व को कार्तिकी छठ कहा जाता है। पारिवारिक सुख.समृद्धी तथा मनोवांछित फल प्राप्ति के लिए यह पर्व मनाया जाता है। स्त्री और पुरुष समान रूप से इस पर्व को मनाते हैं।

छठ व्रत के सम्बन्ध में अनेक कथाएँ प्रचलित हैंय उनमें से एक कथा के अनुसार जब पांडव अपना सारा राजपाट जुए में हार गये तब श्री कृष्ण द्वारा बताये जाने पर द्रौपदी ने छठ व्रत रखा तब उनकी मनोकामनाएँ पूरी हुईं तथा पांडवों को राजपाट वापस मिला। वरिष्ठ उपमहापौर देवेंद्र चौधरी व ओम प्रकाश रैक्सवाल ने मौके पर उपस्थित नहर पार पूर्वांचल मिथलांचल छट पूजा समिति के प्रधान ठाकुर ब्रिजेश सिंह व पूर्वांचल छट पूजा समिति श्याम कलोनी के प्रधान सुमन्त चंदेल व विजय पाल सिंह प्रधान को पूर्ण आश्वासन दिया कि जल्द ही नहर पार सारे घाटों में सफ़ाई एवं पानी भरवाने का प्रबन्ध कराया जाएगा । उन्होने कहा कि छट महा पर्व भारत में ही नहीं बल्कि दूसरे देशों में जहाँ भारतीय बसे है वहाँ भी मनाया जाता है। पूर्वांचल से शुरू हुआ ये त्योहार आज पूरे भारतवर्ष का महा पर्व बन गया हैे और पर्व मनाने के लिए घाटों पर लोगों को कोई असुविधा ना हो इस बात का ध्यान रखा जाएगा। इस मौके पर संदीप चपराना, राजेश सिंह, एस.पी. स्वर्णकार, मनोज सिंह, अवधेश सिंह, सुभाष नायक, केशव सिंह, सुधीर शर्मा, कामेश्वर चोबे, उमेश सिंह, मुकेश सिंह, राजेश श्रीवास्तव इत्यादि मोजूद रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here