डॉ. अम्बेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ इंडिया का लघु सचिवालय पर प्रदर्शन

0
645
Faridabad News, 04 Feb 2019 : देश भर में 13 पॉइंट रॉस्टर का विरोध बढ़ता जा रहा है इसी को लेकर जिला फरीदाबाद लघु सचिवालय में सोमवार को 13 पॉइंट रॉस्टर सिस्टम व राजीव गांधी राष्ट्रीय फेलोशिप में हुए बदलावों के विरोध में डॉ अम्बेडकर स्टूडेंट फ्रंट ऑफ इंडिया ने प्रदर्शन किया।
डीएएसएफआई ने तहसीलदार सुशील शर्मा जी को राष्ट्रपति रामनाथ कोबिंद के नाम ज्ञापन दिया। DASFI फरीदाबाद ने 13 पॉइंट रॉस्टर को अध्यादेश के माध्यम से निरस्त करने व 200 पॉइंट रॉस्टर के हिसाब से यूनिवर्सिटी व महाविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों को भरने की मांग की। ज्ञापन में राजीव गांधी राष्ट्रीय फेलोशिप को भी पुराने तरीके से लागू करने की मांग की गई। प्रदर्शन की अध्यक्षता डीएएसएफआई के प्रदेश महासचिव ललित कुमार ने की।
DASFI प्रदेश महासचिव ललित कुमार ने कहा कि इस 13 पॉइंट रोस्टर विभागवार नियम से विश्वविधलयो में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति ओर अन्य पिछड़ा वर्ग की  नियुक्तिय में हिस्सेदारी बिल्कुल खत्म हो जाएगी। यह नियम संविधान दवारा दिया गया 50 प्रतिशत आरक्षण के विरुद्ध है।
DASFI महिला जिला अध्यक्ष अनु कुमारी व जिला उपाध्यक्ष नीरज प्रेमी ने सयुक्त रूप से कहा कि इस नियम से अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति ओर अन्य पिछड़ा वर्ग के शिक्षित युवा पीढ़ी को गुलामी बनाने की सोच समझी प्लानिंग है। क्योकि प्रो. काले कमेटी ने 200 प्वाइंट रोस्टर के अनुसार 100 प्वाइंट रोस्टर ओर बैकलाग आज तक नही भरे गये है। जबकि अनुसूचित जाति को 15 प्रतिशत के अनुसार 30 सीटें, अनुसूचित जनजाति को 7.50 प्रतिशत के अनुसार 15 सीटें तथा अनय पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत के अनुसार 54 सीटें आरक्षण व्यवस्था के अनुसार प्राप्त होनी चाहिए थी लेकिन वे आज तक किसी यूनिवर्सिटी व कालेजों मे लागू नही हुआ। अब 13 प्वाइंट रोस्टर नियम लागू हो गया है। जबकि विश्विद्यालयों द्वारा 5 से कम सीटें  विज्ञापित की जाती हैं। ऐसे में आरक्षण व्यवस्था लागू नही हो पाती है। इससे उक्त सभी आरक्षित वर्ग प्रभावित होगा।
इस मौके पर नेहरू कॉलेज महासचिव तरुण, कॉलेज सचिव मनोज,  उपाध्यक्ष चंद्रसेन, निक्कू, सागर, शालू कर्दम, कोमल, अन्नू, सीमा, मेहन्द्र, अभिषेक, कपिल, राहुल बुन्देला, रविन्द्र, खेमचंद, राहुल कर्दम, सरजीत, अरुण, मुख्य रूप से मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here