एलएफएमएस कंपनी के डायरेक्टर ने लगाए भाजपा नेता पर गंभीर आरोप

0
4051

Faridabad News, 25 Nov 2018 : फ्लैट में सिक्योरिटी, पलम्बिंग एवं अन्य प्रकार के कार्य करने वाली कंपनी लगजरी फैसलिटी मेंटेनेंस सर्विस प्राईवेट लिमिटेड (एलएफएमएस) के डायरेक्टर वेदप्रकाश यादव ने तिगांव विधानसभ क्षेत्र से 2014 में भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़े राजेश नागर पर जबरन कंपनी बेचने और न बेचने पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। इस बाबत वेदप्रकाश यादव ने सेक्टर-75 बीपीटीपी थाने में एक लिखित शिकायत पुलिस को दी है। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच कर रही है। रविवार को नीलम-बाटा रोड स्थित होटल राजमंदिर में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान वेदप्रकाश यादव ने बताया कि उनकी कंपनी एलएफएमएस में 60 प्रतिशत के वह हिस्सेदार है, जबकि 40 प्रतिशत का हिस्सेदारी राकेश टुटेजा की है। हम इस बिजनेस को पूरे कायदे कानून के तहत चला रहे है। पिछले कई वर्षाे से यह कंपनी ग्रेटर फरीदाबाद स्थित एसपीआर सोसायटी में कार्य कर रही है और यहां उनके करीब 165 कर्मचारी है, जो बिजली, पलम्बिंग या अन्य प्रकार के कार्य करते है।

शनिवार को वह अपने सेक्टर-82 स्थित कार्यालय पर बैठे हुए थे, तभी देवेंद्र नामक एक व्यक्ति आया और बोला कि आप एक बार मंत्री जी से मिल लो, उसने अपने फोन मिलाकर बात करने को कहा। जब उन्होंने फोन पर बात की तो उधर से आवाज आई कि मैं राजेश नागर बोला रहा हूं, मैंने कहा बताओ, उन्होंने कहा कि तू मेरे घर पर आकर मुझसे मिल, मैंने कहा कि मैं आपको जानता नहीं हूं, इसलिए मैं आपके पास क्या आऊं, तो उन्होंने कहा कि मैं तुझे अपने पास बुलाना जानता हूं। थोडी देर बाद मेरे पास गजराज आया, जिसे वह जानता है, उसने कहा कि आप एक बार राजेश नागर के पास चलो, उन्हें आपसे कोई बात करनी और मैं उनके कहने पर वहां राहुल यादव और सीपी शर्मा, सीपी शर्मा, अजय
सक्सेना, सुरेश खटाना के साथ चला गया, वहां राहुल और सभी को बाहर बैठा दिया और मुझे कमरे में अंदर ले गए, वहां पर 8-10 व्यक्ति पहले से मौजूद थे, राजेश नागर ने मुझसे कहा कि मैं बीजेपी का वरिष्ठ नेता हूं और हरियाणा का भावी मंत्री हूं और नहरपार जो भी कंपनी काम करेगी, मेरी बगैर इजाजत के काम नहीं कर सकता, तेरी भलाई इसी में है या तो यह कंपनी मेरे आदमी को बेच दे और यहां से चला जा नहीं तो तुझे अपनी जान गंवानी पड़ जाएगी। वेदप्रकाश यादव ने बताया कि यह धमकी देते हुए उन्होंने उसे तीन दिन का समय दिया है, अगर इस दौरान मैंने कंपनी उनके नाम नहीं की तो वह मुझे और मेरे कर्मचारियों को जान से मार देंगे। उन्होंने पुलिस प्रशासन से अपने जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए कहा कि वह इस घटना से काफी सहमे हुए है इसलिए उन्हें सुरक्षा मुहैया करवाई जाए और अगर उनके साथ कोई अप्रिय घटना होती है तो इसके लिए सीधे तौर पर भाजपा नेता राजेश नागर जिम्मेदार होगा। वेदप्रकाश यादव ने कहा कि वह इस कंपनी के माध्यम से युवाओं को रोजगार देने का काम कर रहे है, इंकम टैक्स, सेल्स टैक्स हर प्रकार का टैक्स भर रहे है, इसके बावजूद आखिर उन्हें काम क्यों नहीं करने दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वह इस मामले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहरलाल के समक्ष उठाएंगे कि उन्होंने पार्टी में ऐसे नेताओं को शामिल किया हुआ है, जो गुंडागर्दी करके लोगों के रोजगार छीनने का काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि तिगांव विधानसभा क्षेत्र के लोगों का सौभागय है कि उन्होंने ऐसे उम्मीदवार को अपना जनप्रतिनिधि नहीं चुना, अन्यथा अगर वह कुछ बन जाते तो वह लोगों का जीना दुश्वार कर देते। इस अवसर पर सुरेश खटाना, अजय सक्सेना, एडवोकेट हरबंस गोदारा, परशुराम यादव, सीपी शर्मा, प्रमोद कुमार, राहुल सिंह सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here