धनेश अदलक्खा के समर्थन में केंद्रीय मंत्री से मिले सैंकड़ों लोग

0
136

फरीदाबाद, 18 जुलाई। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर द्वारा हरियाणा फार्मेसी काउंसिल के पूर्व चेयरमैन धनेश अदलक्खा पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर उनके समर्थन में दिए गए बयान को लेकर आज वार्ड नं 38 के सैंकड़ों लोग केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर से मिले। इस दौरान लोगों ने बड़ी संख्या में उपस्थिति दर्ज करवाकर केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर का आभार व्यक्त करते हुए धनेश अदलक्खा के खिलाफ षडय़ंत्र रचने वालों की भी निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की। लोगों ने कहा कि केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर का धनेश अदलक्खा के समर्थन में यह कहना कि उन्होंने निगम मेें कार्य करवाने के लिए 2 रूपए तक नहीं लिए, यह साबित करता है कि अदलक्खा पर लगे आरोपों में कितनी सच्चाई है। वार्ड नंबर-38 के लोगों ने कहा कि केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने जो विश्वास धनेश अदलक्खा के प्रति जताया है, वह पूरी तरह से खरा है। पार्षद धनेश अदलक्खा ने आज तक वार्ड के किसी भी व्यक्ति से निगम का कार्य करवाने की एवज में कोई पैसा नहीं लिया है और ऐसे व्यक्ति के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप लगाना पूरी तरह से बेमानी है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर से मांग की कि वह मुख्यमंत्री से मिलकर इस मामले की निष्पक्ष जांच करवाएं ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। स्थानीय लोगों ने बताया कि धनेश अदलक्खा ने वार्ड के लोगों की समस्याओं को हमेशा प्राथमिकता के आधार पर हल किया है और उनकी सदैव प्राथमिकता यह रही है कि लोगों की समस्याएं समय रहते हल हो सके। इतना ही नहीं लोगों ने कहा कि जो व्यक्ति पार्कों के लिए, प्याऊ, गरीब बच्चों की पढ़ाई, धार्मिक संस्थाओं को दान देने में हमेशा आगे रहता है, वह इस तरह से भ्रष्टाचार के मामले में संलिप्त हो, यह उनके गले नहीं उतरता। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोग धनेश अदलक्खा की लोकप्रियता को हजम नहीं कर पाए जिसके चलते एक सोची समझी रणनीति के तहत उन्हें फंसाने का प्रयास किया गया है। वहीं कुछ लोगों ने बताया कि फार्मेसी काउंसिल के चुनावों के चलते यह षडय़ंत्र रचा गया है क्योंकि कुछ लोग धनेश अदलक्खा की पुन: जीत निश्चित नजर आ रही थी। केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आभार जताने आए लोगों से कहा कि लोगों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि उन्होंने धनेश अदलक्खा की कार्यशैली को 15 साल से बहुत ही नजदीकी से देखा है। वह पूरी ईमानदारी लगन और निष्ठा से काम करते हैं। उनके साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि इस मामले की निष्पक्ष जांच हो रही है, जल्द ही सब सच सबके सामने आ जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here