दो दिन में 65 परिवारों के परिवार पहचान पत्र बनाए : जितेंद्र कुमार

0
826

Faridabad News, 08 Nov 2020 : उपमंडल अधिकारी (ना.) जितेंद्र कुमार ने बताया कि शहरी क्षेत्र के लोगों के लिए शनिवार व रविवार को सेक्टर-15 स्थित कम्युनिटी सेंटर में परिवार पहचान पत्र बनाने के लिए विशेष कैंप लगाया गया। इस कैंप में दोनों दिन सुबह 09:00 बजे से सांय 05:00 बजे तक कोई भी व्यक्ति आकर अपना परिवार पहचान पत्र बनवा सकता था। इसके साथ ही जिन लोगों के पहले से परिवार पहचान पत्र बन चुके हैं वह भी यहां आकर अपने पहचान पत्र को अपडेट करवा सकते थे। इन दो दिनों में 65 परिवारों ने अपने परिवार पहचान पत्र बनवाए व अपडेट करवाएं।

उपमंडल अधिकारी (ना.) ने कहा कि परिवार पहचान पत्र पोर्टल पर सभी नागरिकों की जानकारी पूरी तरह से गोपनीय व सुरक्षित होती है। इसके लिए नागरिकों को परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड, दिव्यांगता प्रमाण पत्र (यदि परिवार का कोई सदस्य दिव्यांग है), मोबाईल नंबर, 21 वर्ष से अधिक आयु के सभी सदस्यों के बैंक खाता संख्या, आईएफएससी, पैन संख्या, वोटर कार्ड संख्या और यदि बीपीएल परिवार है तो उसकी राशन कार्ड संख्या भी अवश्य हो।

उन्होंने परिवार पहचान पत्र के फायदे बताते हुए कहा कि इससे सरकारी योजनाओं में फर्जीवाड़ा रुकेगा और सिर्फ सही लाभार्थियों को ही योजनाओं का लाभ मिलेगा और गलत तरीके से लाभ उठा रहे लोग अलग हो जाएंगे। सरकार के पास पूरा रिकार्ड होगा कि किस व्यक्ति को किस योजना का लाभ मिल रहा है और किसे नहीं। योजनाओं का लाभ लेने के लिए सरकारी दफ्तरों के धक्के नहीं खाने पड़ेंगे। सॉफ्टवेयर निर्धारित आयु सीमा सहित सभी जानकारी निकालकर लाभार्थी का लाभ समय पर पहुंचाना सुनिश्चित करेगा। बुढ़ापा पेंशन सहित सभी पेंशन परिवार पहचान पत्र के जरिए मिलेंगी। योजनाओं का लाभ लोगों को उनके दरवाजे पर ही मिलेगा। सरकार को पता रहेगा कि परिवार किस क्षेत्र में रहता है और हर क्षेत्र के लिए अलग से कोड बनाया गया है। शहर व गांवों के लिए अलग से कोड बनेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here