सीबीआरई ने बौद्धिक रूप से निःशक्त जनों के लिए रोजगार प्रदान कर समान अवसर सृजित किए

0
1270

Gurugram News, 24 Nov 2018 : बौद्धिक रूप से अषक्तता (इंटैलेक्चुअल डिसएबिलिटीज़) वाले लोगों के लिए समान और समावेषी अवसर सृजित करने के उद्देष्य से सीबीआरई साउथ एषिया प्रा. लि. ने आज दो ऐसे व्यक्तियों की सफलता की कहानियों को साझा किया जिन्होंने कंपनी में सफलतापूर्वक एक साल पूरा किया है।

मुकुंद गंजू (21) और सिद्धांत कसेरा (23) की एक साल के सफलता के सफर को सीबीआरई द्वारा ‘वॉक फॉर अ विष’ वॉकथॉन के दूसरे संस्करण के दौरान साझा किया गया। दोनों ने एक साल पहले सीबीआरई ज्वॉइन किया था और उन्हें मार्केटिंग विभाग में डेटा एंट्री एवं डेटा मैनेजमेंट की जिम्मेदारी दी गई थी। बीते एक साल में उन्होंने न केवल दिल जीते, बल्कि अपने ध्यान, काम के प्रति समर्पण और पेषेवर आचरण के साथ टीम का अभिन्न हिस्सा बन गए हैं। उन्होेंने मुस्कान – ऑटिज़्म एवं डाउन सिंड्रोम वाले लोेगों के लिए वयस्क प्रषिक्षण केंद्र से वोकेषनल ट्रेनिंग पूरा करने के बाद सीबीआरई ज्वॉइन किया था।

समानता और समावेषन के संदेष के प्रसार के लिए मुकुंद और सिद्धांत आज कई अन्य छात्रों के साथ वॉकथॉन में हिस्सा लिया। वॉकथॉन को सीबीआरई के भारत एवं दक्षिण-पूर्व एषिया के चेयरमैन अंषुमान मैगजीन ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस पहल के तहत् सीबीआरई ने दिल्ली-एनसीआर के कर्मचारियों, ग्राहकों और पार्टनर्स को भी आमंत्रित किया था। बौद्धिक अषक्तता जैसे ऑटिज़्म एवं डाउन सिंड्रोम वाले लोगों के बीच जागरूकता लाने के उद्देष्य से ‘वॉक फॉर अ विश’ को पिछले साल शुरू किया गया था।

इस पहल पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सीबीआरई में भारत एवं दक्षिण-पूर्व एषिया के चेयरमैन श्री अंषुमन मैगजीन ने कहा, ‘‘सीबीआरई में हम एक ऐसा पारस्थितिक तंत्र विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जो समावेषी प्रकृति और हमारे ‘राइज़ वैल्यूज़’ के अनुरूप हो। समाज को वापस देना हमेषा से ही सीबीआरई के समग्र आचार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। वॉक फॉर अ विष हमारे लिए समाज में समानता के संदेष को फैलाने और बौद्धिक अक्षमताओं के कुछ रूपों को सषक्त बनाने का अवसर है। हमारा प्रयास इस नेक पहल जोकि हमारे दिल के बहुत करीब है, के प्रति हम जो कुछ भी कर सकते हैं, उसमें योगदान देना है।’’

सीबीआरई के राइज वैल्यूज़ – सम्मान, ईमानदारी, सेवा और उत्कृश्टता – वह आधार है जिस पर संगठन का गठन किया गया है। ये मूल्य कालातीत हैं और सभी बाज़ारों, सर्विस लाइन्स, भाशाओं एवं कारोबारी संस्कृति में आगे बढ़ते हैं। वॉक फॉर अ विष सीबीआरई की प्रमुख परोपकारी पहल है, जो टीमों और समुदायों को एक साथ वॉक कर कई मानवीय मुद्दों पर जागरूकता के प्रसार करने और विभिन्न सामाजिक दायित्वों के प्रति कंपनी की प्रतिबद्धता का समर्थन करती है।

सीबीआरई की पहल का समर्थन करते हुए डॉ. षांति ऑलक, संस्थापक एवं अध्यक्ष मुस्कान ने कहा, ‘‘मुस्कान में हम बौद्धिक अषक्तता वाले लोगों के लिए अवसर एवं क्षमता के अंतर को सफलतापूर्वक कम कर रहे हैं। हम हर व्यक्ति की सीखने और विकास की क्षमता में यकीन करते हैं और यह ध्यान देने योग्य है कि सीबीआरई जैसे कॉर्पोरेट समान दृश्टिकोण साझा करते हैं। वॉक फॉर अ विष जैसे आयोजन निष्चित रूप से इस संदेष का प्रसार करते हैं और बड़े समुदाय को अलग-अलग लोगों की क्षमताओं को पहचानने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।’’

मुस्कान द्वारा प्रषिक्षित किए गए सीबीआरई के कर्मचारियों के अभिभावकों और परिवार के सदस्यों ने भी वॉक में प्रतिभागिता की और अपने बच्चों को कॉर्पोरेट नौकरियों में अपना कौषल एवं बुद्धि प्रदर्षित करने का अवसर प्रदान करने के लिए अभार व्यक्त किया।

मुकुंद गंजूू की मां डॉ. प्रगति गंजू ने कहा, ‘‘यह हम सभी के लिए गर्व का क्षण है। सीबीआरई द्वारा उठाए गए कदम बौद्धिक अषक्तता वाले लोेगों की जरूरतों के प्रति समाज को संवेदनषील बनाने में व्यापक योेगदान देगा। सीबीआरई ने इन लड़कों को ऐसे काम देने का साहस दिखाया जो बौद्धिक रूप से पूर्ण और उत्पादकता के लिहाज से उनकी प्रतिभा का लाभ उठाता है। इन दो उम्मीदवारों की सफलता इसकी गवाही है। अगर सही अवसर प्रदान किए जाएं तो ये बच्चे कई क्षेत्रों में उत्कृश्टता प्राप्त कर सकते हैं और अपनी छाप छोड़ सकते हैं।’’

कॉन्टिनुआ किड्स फाउंडेषन के छात्रों एवं षिक्षकों ने भी अलग तरह की क्षमताओं वाले बच्चों की विभिन्न जरूरतों पर जागरूकता के प्रसार के लिए वॉकथॉन में हिस्सा लिया।

सीबीआरई ने अपने कर्मचारियों के लिए नए सहयोगियों के समर्थन की खातिर एक जागरूकता कार्यषाला का भी आयोजन किया और नए कर्मचारियों के विष्वास को बढ़ावा देने के लिए सकारात्मक व्यवहार एवं सक्षम माहौल के महत्व पर प्रकाष डाला।

सीबीआरई ग्रुप, इंक के बारे में

सीबीआरई ग्रुप, इंक  ¼NYSE:CBRE½ फॉर्च्युन 500 और एसएंडपी 500 में शामिल कंपनी है, जिसका मुख्यालय लॉस एंजिल्स में है। यह दुनिया की सबसे बड़ी कॉमर्षियल रियल एस्टेट सर्विसेज और इन्वेस्टमेंट फर्म (2016 के राजस्व के आधार पर) है। कंपनी  के कर्मचारियों की संख्या 75,000 से अधिक (सहायकों सहित) है और यह दुनिया भर में करीब 450 कार्यालयों (सहायकों को छोड़कर) के माध्यम से रियल एस्टेट निवेषकों और ऑक्यूपायर्स को सेवाएं प्रदान करती है। सीबीआरई फैसिलिटीज़, ट्रांजेेक्षन और परियोजना प्रबंधन, संपत्ति प्रबंधन, निवेष प्रबंधन, मूल्यांकन एवं वैल्यूएषन, प्रॉपर्टी लीजिंग, स्ट्रेटजिक कंसल्टिंग, प्रॉपर्टी की बिक्री, मॉर्गेेज सेवाएं एवं विकास सेवाओें सहित एकीकृत सेवाओें के विस्तृत रेंज की पेषकष करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here