नाराज टूरिज्म कर्मचारियों ने गुरूग्राम पर्यटन केन्द्र पर आक्रोश धरने का किया आयोजन

0
748

Gurugram News : वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू न करने व सेवा नियम न बनाने से नाराज टूरिज्म कर्मचारियों ने शमा गुरूग्राम पर्यटन केन्द्र पर आक्रोश धरने का आयोजन किया गया। धरने पर बैठे कर्मियों ने सरकार व निगम प्रबंधको के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। यूनिट प्रधान ब्रीजकिशोर शर्मा व सचिव पवन जैन की अध्यक्षता में आयोजित धरने में दमदमा, सोहना, धारूहेड़ा, गुरुग्राम से सैंकड़ों कर्मियों ने शिरकत की। धरने में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला प्रधान कवंर लाल यादव ,सचिव संजय सैनी ने विशेष तौर पर शिरकत की।

हरियाणा टूरिज्म कर्मचारी संघ हरियाणा के चेयरमैन सुरेश नोहरा, महासचिव युद्धवीर सिंह खत्री , संगठन सचिव टीका राम ने धरने को संबोधित करते हुए चेतावनी दी की अगर 15 दिनों के अन्दर सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू नही किया व सेवा नियमों को अधिसूचित नही किये तो टूरिज्म कर्मचारी प्रदेशव्यापी हड़ताल करने पर मजबूर होंगे। टूरिज्म कर्मचारियों को संबोधित करते हुए टूरिज्म कर्मचारी संघ के महासचिव युद्धवीर सिंह खत्री ने कहा की सरकार जन सेवाओं के विभागों मे आऊटसोर्सिंग की नीतियों को आक्रमकता के साथ लागू कर रही है और ठेके पर लगे कर्मचारियों को पक्का करके ठेका प्रथा समाप्त करने की बजाय अनुबंध पर भर्तियां करने की योजना बना रही है ,जिसका सकसं विरोध कर रहा है। उन्होने कहा की कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, ठेका प्रथा समाप्त करने का

सरकार का कोई इरादा नही है । उन्होने कहा कि सरकार चुनावी घोषणा पत्र में कर्मचारियों से किये वादो पर तीन साल में अमल करने में पुरी तरह विफल रही है । जिससे कर्मियों में नाराजगी बढ़ रही है । उन्होने कहा की सीएम के प्रधान सचिव ने 6 नवम्बर को हुई मीटिंग में टूरिज्म कर्मचारियों को इसी सप्ताह में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने का आश्वासन दिया है । हरियाणा टूरिज्म कर्मचारी संघ हरियाणा के चेयरमैन सुरेश नौहरा, महासचिव युद्वबीर सिंह खत्री व संगठन सचिव टीका राम शर्मा ने कहा कि टूरिज्म कर्मचारियों की प्रमुख मांगो में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को जनवरी, 2016 से लागू करना, सेवा नियम अधिसूचित करना, वर्क लोड के मुताबिक पदो का पुनर्गठन करना, नये पदों पर कर्मचारियों की प्रमोशन करना, कर्मचारियों को हर महीने समय पर वेतन देना, प्रधान नियोक्ता का ईपीएफ का शेयर जमा न करने की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही व शेयर कर्मियों के खातों में जमा करवाना, डीसी रेट आऊटसोर्सिंग पर लगे कर्मचारियों की लम्बित सेक्शन जारी करना, भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ उठाने वाले कर्मियों के किये जाने वाले ट्रॉसफरो पर रोक लगाना आदि है । उन्होने कहा की जब तक इन मांगो का समाधान नही होगा, जब तक आन्दोलन जारी रहेगा।

धरने को सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के नेता ओमबीर शर्मा, टूरिज्म के नेता राजेन्द्र सरोहा,सुरेन्द्र चान्दना, सतवीर सिंह,राजेश यादव, महावीर सिंह, शशी सिंह, लक्ष्मण सिंह, देवेन्द्र, नरेन्द्र देशवाल आदि ने संबोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here