जे सी बोस विश्वविद्यालय में लगभग 143 ने उठाया कोरोना टीकाकरण का लाभ

0
65

फरीदाबाद, 12 मई – कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के अपने जारी प्रयासों को जारी रखते हुए जे.सी. बोस विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आज विश्वविद्यालय परिसर में एक विशेष टीकाकरण शिविर का आयोजन किया, जिसमें 12 से 15 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन कॉर्बेवैक्स तथा 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं के लिए कोविड वैक्सीन कोविशील्ड तथा कोवैक्सीन का पहला व दूसरा शॉट लगाया गया। इसके अलावा, 18 वर्ष से ऊपर की आयु में बूस्टर डोज भी दी गई। शिविर के दौरान लगभग 143 लोगों को कोविड वैक्सीन का पहला व दूसरा शॉट दिया गया। विश्वविद्यालय द्वारा अब तक कोविड टीकाकरण के छह शिविरों का आयोजित किया जा चुका है।

इस अवसर पर कुलपति प्रो. एस.के. तोमर ने विद्यार्थियों और कर्मचारियों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित किया तथा टीकाकरण में हिस्सा लेते हुए वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाई। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग, राष्ट्रीय स्वयंसेवा संघ के उत्तर क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख श्री कृष्ण सिंघल तथा अरुण वालिया भी उपस्थित थे। कोविड-19 टीकाकरण शिविर का आयोजन विश्वविद्यालय के स्वास्थ्य केंद्र एवं भारत सेवा प्रतिष्ठान फरीदाबाद के संयुक्त तत्वावधान में हरियाणा स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से विश्वविद्यालय के चिकित्सा अधिकारी डॉ अंकुर शर्मा की देखरेख में किया गया।

टीकाकरण अभियान के आयोजन पर प्रसन्नता जताते हुए कुलपति प्रो. तोमर ने कहा कि कोविड संक्रमण से रोकथाम एवं बचाव के लिए विश्वविद्यालय द्वारा कारगर कदम उठाये जा रहे है, जिनका लाभ विद्यार्थियों एवं कर्मचारियों के साथ-साथ आस-पास के लोगों को भी मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की टीकाकरण नीति के अंतर्गत सभी नागरिकों को निःशुल्क कोविड-19 टीका उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण ही कोविड संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में प्रभावी समाधान है। इसलिए, प्रत्येक नागरिक को जिम्मेदारी के साथ टीकाकरण में हिस्सा लेना चाहिए और टीकाकरण अभियान को सफल बनाना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे कोविड टीकाकरण के साथ-साथ मास्क लगाने और सामाजिक दूरी बनाए रखने जैसे उपयुक्त व्यवहार का पालन करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here