आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एक बैठक आयोजित की गई

0
1010
Faridabad News, 12 Feb 2019 : अतिरिक्त उपायुक्त जितेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को लघु सचिवालय परिसर में आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में मतदाता सूचियों एवं मतदान केन्द्रों सहित विभिन्न विषयों को लेकर समीक्षा की गई।
अतिरिक्त उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित सभी विभागों के अधिकारियों एवं राजनैतिक दलो के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। यदि किसी भी मतदाता सूची में कोई त्रुटी है, तो उसे दुरूस्त करवाया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में प्राप्त सभी प्रकार के फार्मों का निपटारा तुरंत प्रभाव से शीघ्र किया जाए। इसके अतिरिक्त उन्होंने निर्वाचन क्षेत्रों की सभी सूचनाएं, मतदान केन्द्र, बीएलओ, सुपरवाईजर की सूचना ईआरओ नेट पर अपडेट करना भी सूनिश्चित करने के निर्देश दिए।
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि यदि किसी दिव्यांगजन का नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं है, तो उसका फार्म भरवाकर मतदाता सूची में नाम दर्ज करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी ईआरओ, एईआरओ यह सुनिश्चित करें कि वे अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में वीआईपी मतदाताओं की पहचान कर उनके नाम मतदाता सूची में चिन्हित करें। यदि किसी का नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं तो उनका नाम शीघ्र मतदाता सूची में दर्ज किया जाए।
उन्होंने जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी को निर्देश दिए कि संबंधित खंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों के माध्यम से सभी गांवों में दिव्यागजनों को मतदाता सूची से जोडऩे के लिए विशेष कैम्प आयोजित करें और इसकी सूचना जिला निर्वाचन कार्यालय में भिजवानी सुनिश्चित की जाए। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा यह निर्देश दिए गए हैं, कि कोई भी ऐसा युवा जिसकी आयु 18 से 19 वर्ष के बीच है और उसका नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं है तो उसका नाम मतदाता सूची में अवश्य शामिल किया जाए। उन्होंने कहा कि अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में सैनिक मतदाताओं के फार्मों पर भी निर्णय लेना सुनिश्चित करें। भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों अनुसार ईएलसी के तहत चुनाव पाठशाला का गठन भी करें। सभी निर्वाचन पंजीयन अधिकारी आयोग द्वारा निर्धारित की गई ट्रेनिंगों में भी भाग लेना सुनिश्चि करें।
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार यदि किसी मतदान केन्द्र पर ग्रामीण क्षेत्र में 1200 व शहरी क्षेत्र में 1400 से अधिक मतदाताओं की संख्या है, तो नियमानुसार नया मतदान केन्द्र बनाना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि यदि मतदान केन्द्र की ईमारत क्षतिग्रस्त है, तो उसके स्थान पर नए भवन का चयन करें।
अतिरिक्त उपायुक्त ने बैठक में मौजूद राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से कहा कि वे भी आगामी लोकसभा चुनाव के दृष्टिïगत अपना सुझाव दे सकते हैं। बैठक में एसडीएम फरीदाबाद सतबीर मान, सीटीएम श्रीमती बैलीना, डीआरओ डॉ० नरेश कुमार, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी शशी अहलावत, चुनाव तहसीलदार विनोद कुमार सहित सभी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि तथा बैठक से जुड़े विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here