रॉकी हत्याकांड में शामिल 4 मोस्ट वांटेड इनामी बदमाश गिरफ्तार

0
648

Faridabad News, 01 April 2021 : माननीय पुलिस आयुक्त ओपी सिंह द्वारा अपराधियों की धरपकड करके अपराधों पर अंकुश लगाने के निर्देशों पर कार्यवाही करते हुए क्राइम ब्रांच अपराधियों की धरपकड़ में लगी हुई है।

इसी कड़ी को दोहराते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 17 व क्राइम ब्रांच सेक्टर 30 ने संयुक्त रूप से कार्य करते हुए रॉकी हत्याकांड के बाद फरार चल रहे फरीदाबाद जिले के 4 मोस्ट वांटेड अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार किये गए आरोपियों में भैसरावली निवासी विनोद उर्फ बिन्नी व राहुल उर्फ नन्नू, पलवल के चांदहट निवासी अजित और तिगांव निवासी कपिल का नाम शामिल है।

आरोपी विनोद उर्फ बिन्नी पर 50 हजार का इनाम व शेष तीन आरोपियों पर 25-25 हजार रूपये का इनाम घोषित है।

वारदात के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए उक्त आरोपियों ने अपना ठिकाना राजस्थान के अलवर जिले के एक सुनसान एरिया में बना रखा था। क्राइम ब्रांच द्वारा बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही थी। अंततः क्राइम ब्रांच की टीमों ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए चारों मोस्ट वांटेड इनामी बदमाशों को राजस्थान से गिरफ्तार करने में कामयाब रही।

आरोपियों के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास,फिरौती,मारपीट जैसे करीब एक दर्जन मुकदमे दर्ज हैं।
आरोपी अपना वर्चस्व कायम करने और आपसी रंजिश के चलते मारपीट व् अवैध वसूली जैसे अपराध को अंजाम देते थे|

दिनाँक 12 नवम्बर 2020 को नचौली निवासी रॉकी जसाना रोड स्तिथ अपने ऑफिस में बैठा था, 5-6 हथियारबंद व्यक्तियों ने आकर रोकी पर अचानक ताबड़तोड़ फायरिंग की जिसकी वजह से रॉकी की मृत्यु हो गई थी।

पूछताछ के दौरान मुख्य आरोपी विनोद उर्फ़ बिन्नी ने पूछताछ में बताया कि इस अपराध को अंजाम देने से करीब 1 साल पहले नचौली के रहने वाले कुलभूषण उर्फ कल्लू व् उसके साथियों ने विनोद के भाई अन्नी को वर्ल्ड स्ट्रीट ओमेक्स, फरीदाबाद में शाम के समय गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया था।

अपने भाई की मौत का बदला लेने के लिए आरोपी विनोद उसी दिन से मौके के इंतजार में था और उसने ठान लिया था कि अपने भाई अन्नी की मौत का बदला जरूर लेगा| इसी उद्देश्य से उसने अपने साथियों राहुल उर्फ नन्नू, अजीत, मोहित उर्फ चुटिया, कपिल की सहायता से कुलभूषण उर्फ़ कुल्लू के भाई रॉकी को मौत के घाट उतार दिया।

चारों अपराधी वारदात को अंजाम देकर वहां से फरार हो गए और पुलिस से बचने के लिए जगह बदल-बदलकर फरारी काटने लगे थे। जिन्हें क्राइम ब्रांच की टीम ने संयुक्त ऑपरेशन करके गुप्त सूत्रों व् साइबर तकनीक की सहायता से राजस्थान के अलवर जिले गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी विनोद उर्फ बिन्नी व् आरोपी राहुल उर्फ नन्नू ज्ञानचंद गांव भैसरावली के रहने वाले है
आरोपी कपिल पुत्र राजबीर तिगांव व् आरोपी अजित पुत्र धर्मपाल पलवल के चांदहट का रहने वाला है।

आरोपी विनोद उर्फ बिन्नी के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, अवैध हथियार, लड़ाई झगडा, षड्यंत्र रचने, चोरी आदि के 6 मुकदमे दर्ज हैं|

आरोपी अजित के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, अवैध हथियार, लड़ाई झगडा, व् षड्यंत्र रचने के 4 मुकदमे दर्ज हैं|

आरोपी राहुल उर्फ नन्नू व् कपिल के खिलाफ 1-1 मुकदमा अवैध हथियार की धाराओं के तहत थाना भूपानी में दर्ज है।

आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग की गई 1 स्कार्पियो गाड़ी बरामद की गई है।

चारो आरोपियों को आज पेश अदालत कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा और वारदात में इस्तेमाल हथियार, वाहन व अन्य आरोपियों के बारे पूछताछ की जाएगी।

प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस आयुक्त ने क्राइम ब्रांच सेक्टर 17 सन्दीप और सेक्टर 30 प्रभारी विमल और उनकी टीम द्वारा किए गए सराहनीय कार्य करने के लिए होसला अफजाई की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here