शरीर के दर्द और मेनोपॉज की तकलीफ से ये थैरेपी दिलायेगी छुटकारा

0
273

Health News : रोज-रोज की भागदौड़ से हमारा शरीर काफी थक जाता है। इतना ही नहीं कभी-कभी तो शरीर के कुछ हिस्सों में दर्द होने लगता है। क्या आप जानते हैं हमारे शरीर को इस दर्द से निजात दिलाने में एक्यूपंचर काफी मददगार साबित होता है। आप सोच रहे होंगे ये किस तरीके का इलाज है।

आपको बता दें इस पद्धति के जरिये कई तरीके की बिमारियों से निजात मिल जाती है, जैसे कि- मलेरिया, कब्ज, अल्सर, अर्थराइटिस, गठिया और कई तरीके के मानसिक रोग। इतना ही नहीं इस पद्धति के जरिये महिलाओं में होने वाले मेनेपॉज के दौरान होने वाली तकलीफ से भी छुटकारा मिलता है।

एक्यूपंचर के दौरान शरीर पर मौजूद कुछ बिंदु कई रोगों का उपचार करने की क्षमता रखते हैं। यदि इन बिंदुओं पर विशेष प्रकार से दबाव डाला जाए, तो यह बहुत ही प्रभावी होते हैं। एक्‍यूपंचर इलाज की ऐसी ही एक पद्धति है, जो शरीर के इन खास बिंदुओं पर सुई के प्रयोग से रोग को दूर करने में मदद करती है। यदि इसे किसी विशेषज्ञ की देखरेख में किया जाए, तो आमतौर पर इसके दुष्‍प्रभाव कम होते हैं।

आइये जानते हैं कि महिलाओं के लिये कैसे ये एक्यूपंचर सहायक है।

1. महिलाओं में होने वाले मेनोपॉज के दौरान है सहायक
मेनोपॉज से जूझने वाली महिलाओं के लिये एक्यूपंचर एक तरीके का वरदान साबित होता है। क्योंकि मेनोपॉज के दौरान महिलाएं बहुत सारी तकलीफों से गुजरती हैं जिससे निजात दिलाने में एक्यूपंचर काफी सहायक सिद्ध होता है।

2. मूड स्विंग
कई बार रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाएं काफी स्ट्रेस्ड होती हैं। इस दौरान उनका मूड स्विंग भी काफी होता है, जिससे निजात दिलाने के लिये एक्यूपंचर की पद्धति काफी सहायक होती है। ऐसे में महिलाओं को जरूर इस पद्धति का सहारा लेना चाहिये।

3. डिप्रेशन से छुटकारा
लाइफ में हो रही भागदौड़ की वजह से महिलाएं काफी अधिक डिप्रेस होती हैं। जिसके कारण वे कभी-कभी दुनिया में क्या चल रहा है ये भी भूल जाती हैं। इस परेशानी से अगर निजात पाना चाहती हैं तो जरूर एक्यूपंचर का सहारा लें।

4. शरीर के दर्द से राहत
महिलाओं को मेनोपॉज के दौरान कई तरह की शारीरिक परेशानियों से गुजरना पड़ता है। उन्हें थकान, तनाव, पेट में दर्द और बैक में दर्द जैसी परेशानियां होती हैं जिससे छुटकारा पाने में भी एक्यूपंचर सहायक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here