धूम्रपान की लत महिलाओं के लिए बहुत हानिकारक

0
143

Health News : महिलाओं में धूम्रपान खतरनाक साबित हो सकता है। लेकिन हैरानी की बात है कि महिलाओं में ये आदत लगातार बढ़ रही है। और तो और रिपोर्ट के मुताबिक इनमें ज्यादातर कॉरपोरेट वर्ल्ड और नौकरी पेशा महिलाएं व कॉलेजों में पढ़ने वाली छात्राएं शामिल हैं।

इंडस हेल्थ संस्था द्वारा कराए गए सर्वे में ये नतीजे सामने आए हैं। सर्वे में पता चला है कि दिल्ली में करीब सात प्रतिशत महिलाएं धूमपान व तंबाकू का इस्तेमाल करती हैं। महिलाओं में बढ़ती धूम्रपान की आदत के चलते कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं हो रही हैं। मसलन, समय से पहले छाती में संक्रमण का खतरा बढ़ने के साथ फेफड़ा भी खराब हो रहा है।

संस्था ने यह सर्वे जनवरी 2015 से अप्रैल 2016 के बीच 24,642 लोगों पर किया। इसमें 13,967 पुरुष और 10675 महिलाएं थीं। सर्वे में देखा गया कि 25 से 35 वर्ष की महिलाएं धूपमान करना अधिक पंसद करती हैं जबकि करीब दो प्रतिशत महिलाएं गुटखा और तंबाकू का इस्तेमाल करती हैं।

धूमपान और तंबाकू के इस्तेमाल के चलते महिलाओं में सांस की बीमारी के साथ फेफड़े के संक्रमण से पीड़ित हो रही हैं। इसके अलावा धूमपान का असर हड्डियों पर भी पड़ रहा है। संस्था के विशेषज्ञों के अनुसार तंबाकू में मौजूद निकोटिन शरीर की हड्डियों पर भी असर डालता है। इससे हड्डियां कमजोर होती हैं।

इन दिनों युव वर्ग धूमपान को युवा तनाव कम करने की दवा मान बैठा है। यही वजह है कि तनाव कम करने के लिए वह धूमपान करते हैं। सर्वे के दौरान देखा गया कि करीब 11 प्रतिशत युवा किसी न किसी तरह के तनाव के कारण धूमपान करते हैं। जबकि 10 प्रतिशत कामकाजी युवा कार्यालयों में अपने समकक्षों और दोस्तों के साथ धूमपान करना शुरू कर देते हैं। उन्हें धूमपान की लत नहीं होती, लेकिन दोस्तों के कहने पर धूमपान करने लगते हैं। इससे फेफड़े पर बुरा असर पड़ता है।

बड़ी बात यह है कि बहकावे में लड़कियां काफी जल्दी आती हैं और एक-दो कश के साथ शुरू हुए धूम्रपान से चेन स्मोकर तक बन जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here