पहली बार कर रही हैं ब्रेस्ट फीडिंग तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

0
779

Health News : शादी के बाद जैसे एक औरत के लाइफ में कई ऐसे बदलाव आते हैं जिससे उसकी पूरी जिंदगी बदल जाती है। ऐसा ही कुछ बदलाव उसके शादीशुदा जीवन में तब आता है जब वह मां बनती है। बच्चे को जन्म देने के बाद एक महिला के जीवन में ही नहीं उसके शरीर में भी काफी बदलाव आने लगते हैं।

मां बनने के बाद जब महिला ब्रेस्ट फीडिंग करती है तो उसे कई सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ब्रेस्टेफीडिंग कुछ महिलाओं को जितनी आसान लगती है उतनी होती नहीं है। ब्रेस्टाफीडिंग से जुड़ी समस्याकएं मां और बच्चे दोनों के लिये नुकसानदेय होती है।

पहली बार स्तनपान से होता है निप्पल में दर्द
पहली बार बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान इस तरह की परिस्थिति का सामना महिला को करना पड़ सकता है। जो कि स्वाभाविक है। शुरुआत के कुछ हफ्ते इस दर्द से आपको गुजरना पड़ सकता है। जिससे छुटकारा पाने के लिये आप सबसे पहले इस बात कि पुष्टि करें कि स्तन से पूरा दूध निकल गया है या नहीं। इसके अलावा आप अपने स्तन की बर्फ से सेंकाई भी कर सकती हैं।

निप्पल के सूखने की हो सकती है परेशानी
साबुन, क्रीम, और एल्कोहल वाले लोशन के प्रयोग से निप्पल के सूखने और फटने जैसी समस्या हो सकती है। जिससे निजात पाने के लिये शुद्ध लानौलिन का उपयोग करना चाहिये। लानौलिन से निप्पल पर हल्के-हल्के हाथों से मसाज करें। हर रोज ये प्रक्रिया करने से आपको इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा। स्तनपान कराने से पहले लानौलिन को साफ कर लेना चाहिए। प्रत्येक स्तनपान के बाद ब्रा-पैड बदल लें और हमेशा सूती ब्रा-पैड का ही प्रयोग करें।

अंदर की तरफ घुसा हुआ निप्पल
अगर आपके निप्पल अंदर की तरफ घुसे हुए होते हैं तो आप जबरदस्ती निप्पल को खीचें नहीं। बल्कि अपने डॉक्टर से सलाह लें जो आपको सही दिशा-निर्देश दे सकती हैं।

स्तन का भरा-भरा सा महसूस होना
स्तन का दूध से भरा रहना, एक प्राकृतिक और स्वस्थ प्रक्रिया है। लेकिन कभी-कभी जब स्तन में बहुत देर तक दूध भरा रहता है। तो उससे स्तन की रक्तनलिकाओं पर दबाव पड़ता है। जिस कारण स्तन भरा-भरा सा, सूजा हुआ रहता है, और इससे दर्द भी होता है। इस प्रकार की समस्या से निपटने के लिए बर्फ की सेंकाई या गर्म पानी से नहाने पर आराम मिलता है।

डक्ट के ब्लॉक होने पर करें सेंकाई
अगर आपके स्तन में एक ही जगह पर दर्द महसूस हो रहा है। तो यह इस बात की तरफ इशारा करता है कि मिल्क डक्ट ब्लॉक हो रहा है। इसलिए इस समस्या से निपटने के लिए आप ब्रेस्ट की सेंकाई या मालिश कर सकती है जिससे आपको आराम मिलेगा।

स्तन में संक्रमण होने पर जरूर मिलें डॉक्टर से
अक्सर स्तनपान कराने से निप्पल फट जाते हैं और उस जगह से स्तन में बैक्टीरिया प्रवेश कर जाते हैं। अगर आपको भी दर्द के साथ बुखार, और थकान हो रही है तो आप डॉक्टर से संपर्क जरूर करें और इस दौरान स्तनपान कराने से बचें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here