श्री तत्कालेश्वर शिव मंदिर मेें श्रीमद़ भागवत के दौरान राधारानी जी के प्रवचन सुनते भक्त

0
236

Faridabad News : श्री तत्कालेश्वर शिव मंदिर मार्किट नम्बर-5 मेें श्रीमद़ भागवत सप्ताह ज्ञानयज्ञ के अन्र्तगत गुरूदेव श्री चैतन्य हरि जी महाराज के पावन सानिध्य में कथा व्यास श्री राधारानी जी ने व्यास पीठ पर विराजमान होकर श्रृद्वालुओं को अपने मुखारबिन्द से ओजस्वी ललित सुमधर वाणी द्वारा कथामूतका रसास्वदन कराया। उन्होनें बताया कि भगवान श्री कृष्ण ने कहा था कि सत्य की डगर पर चलने वाले की हमेशा विजय होती है और किसी का तिरस्कार करना और उसे हानि पहुंचाना मानव को अंधकार में ले जाता है। उन्होनें कहा कि सत्य वचन में बल होता है और सत्य ही व्यक्ति का मनोबल बढ़ाता है। उन्होनें कहा कि सभी को मिलकर सौहार्द्रपूर्ण व अहिंसा प्रियसमाज की स्थापना में हाथ बंटाना होगा तभी आर्दश समाज की स्थापना हो सकेगी,जहां सभी समान रूप से रह सकें किसी में असुरक्षा की भावना नही होगी जहां शेर और बकरी एक ही घाट पर पानी पी सकें। उन्होनें कहा कि आस्था,विश्वास ईच्छा और अनिच्छा सब कुछ भय से पैदा होते है। इन्सान हर पल भय के खौफ से भयभीत है,जबकि उसे पाप से भयभीत होना चाहिए,अन्यथा उसे निर्भीक रहना चाहिए। उन्होनें बताया कि ईश्वर ने महान कार्य करने के लिए मानव का सृजन किया है। इसलिए कमजोर,बुजदिल नहीं ब्लकि भय रहित होकर समर्पन भावना से कार्य करें। इस मौके पर मंदिर के प्रधान हर्ष मल्होत्रा,महासचिव बंसीलाल कुकरेजा,कोषाध्यक्ष सुनील महाजन,सुभाष रलहन,सोहनलाल अरोड़ा,राजेश शर्मा,गोपाल कृष्ण,केवलकृष्ण सचदेवा,शंकर लाल गुप्ता,हरिचन्द कालड़ा,महिला सत्संग मंडली से पूनम ग्रोवर,राजरानी चडड,सरोज गुप्ता,मीना,रामपाल,राज बतरा,रीता रामपाल,मोना ग्रोवर,कमला अरोड़ा, आादि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here