मोदी सरकार की वायदा खिलाफी का वोट की चोट से जवाब देगा युवा : कृष्ण अत्री

0
144

Faridabad News, 21 April 2019 : मोदी सरकार की वादा खिलाफी का वोट की चोट से अब युवा जवाब देगा। उक्त वाक्य एनएसयूआई के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने एक प्रैस वार्ता के दौरान कहे। कृष्ण अत्री ने कहा कि मोदी ने सत्ता में आने से पूर्व वर्ष 2014 में जनता से कई वादें किए थे लेकिन पांच साल बीत जाने के बाद भी वह उन्हें पूरा नहीं कर पाए। इसलिए उनके उन्हीं वादों को लेकर वह अपनी टीम के साथ युवाओं के बीच में जाएंगे। उन्होंने कहा कि युवाओं को मोदी द्वारा बोले गए जुमलों की याद दिलाएंगे और अपील करेंगे कि ऐसी सरकार बनाए जो छात्र एवं युवाओं के लिए काम करे।

अत्री ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि एनएसयूआई एक कार्यक्रम “अब युवा देगा जवाब” करने जा रही है। इसमें एनएसयूआई ने 10 प्रश्र रखे हैं जिनमें पूछा गया है कि क्या 2 करोड़ युवाओं को रोजगार मिले?, कालाधन वापिस आया? 15 लाख रुपए खाते में आए?, देश में 100 स्मार्टसिटी बनी? सरकारी स्कूलों एवं कॉलेजो की हालत सुधरी? सांसदों द्वारा लिए गए गांवों की हालत सुधरी?, राम मंदिर बना?, धारा 370 हटी? क्या हरियाणा के प्रत्येक जिले में नई यूनिवर्सिटी खुली? महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ी? नोटबंदी से आतंकवाद की कमर टूटी?। इन सवालों के आधार पर युवाओं से मोदी सरकार को युवा कितने अंक देंगे, इसका सर्वे किया जाएगा। साथ ही एनएसयूआई टीम युवाओं के कांग्रेस को वोट देने की अपील करेगी।

प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने बताया कि यदि उनकी कांग्रेस सरकार सत्ता में आती है तो वह छात्र अधिकार आयोग बनाएंगे, छात्रों को समान शैक्षणिक अवसर दिया जाएगा, परीक्षा में कोई भ्रष्टाचार नहीं होगा और गे्रजुएशन की पढ़ाई के बाद गुणवत्ता वाली नौकरियां दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सिर्फ 15 अमीर आदमियों की ही सरकार है। 6500 करोड़ रुपए मोदी सरकार ने प्रचार और अपने विदेश यात्राओं में खर्च कर दिए। राफेल घोटाले में अनिल अंबानी को मोदी सरकार ने 30 हजार करोड़ रुपए दिए। जीओ इंस्टीट्यूट को बिना अस्तित्व के इंस्टीट्यूशन ऑफ एमिनेंस का दर्जा देकर हजार करोड़ रुपए का अनुदान दिया। यूजीसी की फंडिंग में 55 प्रतिशत की गिरावट हुई, जिससे फीस में बढ़ोतरी होगी। बड़े उद्योगपतियों का 2.14 लाख करोड़ रुपए का ऋण अप्रैल 2014 से सितंबर 2017 के बीच माफ किया। क्या किसी छात्र का ऋण माफ हुआ?, विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और ललित मोदी के पास करीबन 40000 करोड़ रुपए हैं लेकिन मोदी की देखरेख में वह देश छोड़ कर भाग निकले। अत्री ने बताया कि कॉलेजों में जाकर वह युवाओं से संपर्क साधेंगे और फार्म भरवाएंगे और 7 मई को सर्वे का परिणाम घोषित करेंगे कि युवा मोदी सरकार को कितने अंक दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में छात्र एवं युवाओं के लिए अनेक वादे किए हैं जिनमें सरकारी नौकरियों के लिए फॉर्म पर निशुल्क फीस, पहली से बारहवीं तक शिक्षा मुफ्त, शिक्षा बजट का दोगुना करके जीडीपी का छह प्रतिशत, स्टूडेंट राइट्स कमिशन स्थापित करना, जब तक युवा नौकरी नहीं लगता, तब तक छात्रों के एजुकेशन ऋण पर ब्याज माफी जैसे अनेक वादे किए गए हैं, जिन्हें पूरा किया जाएगा जिस प्रकार कांग्रेस शासित राज्यों में 10 दिन के अंदर कृषि ऋण माफ किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले चुनावों में युवा ऐसी सरकार का चुनाव करें जोकि छात्रों के हितों में काम करें। युवाओं को रोजगार प्रदान करें और युवा और छात्रों से जो वादे किए जाए उन्हें पूरा करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here