अष्टमी व रामनवमी को लेकर चल रहा असमंजस समाप्त, इस समय और इस दिन होंगे शुभ महुर्त

0
221

Faridabad News, 22 Oct 2020 : नवरात्रों में सप्तमी व अष्टमी को लेकर चला रहा असमंजस समाप्त हो गया है। वीरवार को जहां छठीं व सप्तमी एक साथ मनाई जा रही है, वहीं शुक्रवार की सुबह से अष्टमी आरंभ हो जाएगी। सिद्धपीठ महारानी वैष्णोदेवी मंदिर ने छठी व सप्तमी के दिन वीरवार को होने की घोषणा की है, साथ ही यह भी कहा है कि अष्टमी व नौवीं को लेकर चल रहे असमंजस को भी दूर कर दिया है।

मंदिर के प्रधान जगदीश भाटिया ने बताया है कि वैष्णोदेवी मंदिर कटरा के पुजारियों से बातचीत होने के बाद तय हो गया है कि शुक्रवार को प्रात: 6 बजकर 59 मिनट से अष्टमी का शुभारंभ होगा, जोकि शनिवार सुबह से 6 बजकर 58 मिनट तक रहेगा। इसके बाद रामनवमी का शुभारंभ हो जाएगा। उन्होंने बताया कि इस बार एक नवरात्रा कम है, इसलिए लोगों में सप्तमी, अष्टमी व रामनवमी को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। उन्होंने बताया कि मां वैष्णोदेवी मंदिर कटरा के पुजारियों ने यह साफ कर दिया है कि छठी व सप्तमी वीरवार को मनाई जा रही है। शुक्रवार सुबह 6 बजकर 59 मिनट से अष्टमी का त्यौहार मनाया जा सकेगा। शनिवार सुबह 6 बजकर 58 मिनट तक अष्टमी रहेगी। इसके पश्चात रामनवमी का शुभारंभ हो जाएगा। रामनवमी का शुभ महुर्त 6 बजकर 59 मिनट से आरँभ हो जाएगा। यानि कि शनिवार को प्रात: 6 बजकर 59 मिनट से रामनवमी का आगमन हो जाएगा और रविवार 7 बजकर 41 मिनट तक रामनवमी समाप्त हो जाएगी। संभतवय इसके बाद लोगों में व्याप्त असमंजस की स्थिति समाप्त हो जाएगी और लोग नवरात्रों के सभी धार्मिक दिनों का पुण्य ले सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here