प्राचीन हनुमान मंदिर सेवा समिति के प्रांगण में स्थापित हुई शंकर भगवान की मूर्ति

0
857

Faridabad News, 30 July 2019 : सेक्टर 22 स्थित श्री प्राचीन हनुमान मंदिर सेवा समिति के प्रांगण में शहर की सबसे बड़ी भोले बाबा शंकर भगवान की मूर्ति बनकर तैयार हो चुकी है।शिवरात्रि के पावन अवसर पर आज भोले बाबा के त्रिशूल व डमरू को लगाया गया। जिसमें सैकड़ों श्रद्धालु भगत जन, आचार्य व संस्था के पदाधिकारी मौजूद रहे। प्राचीन हनुमान मंदिर सेवा समिति के प्रधान सेवक गंगेश तिवारी ने बताया कि भोले बाबा की मूर्ति पिछले कई वर्षों से लगातार बनाई जा रही थी जो कि आज बनकर तैयार हो गई है और शिव शंकर भगवान के डमरू को लगाया गया है जोकि 108 किलो का है जो स्टील द्वारा बनाया गया है। उन्होंने बताया कि यह मंदिर प्राचीन है और शहर वासियों के लिए एक आस्था का केंद्र है। यहां आने वाले हर भक्त की मनोकामना पूर्ण होती है। श्री तिवारी ने बताया कि प्राचीन हनुमान मंदिर सेवा समिति समय-समय पर हर तीज त्योहारों पर कार्यक्रमों का आयोजन करती रहती है। इस अवसर पर श्री श्री 1008 शिव दास महारुद्र झा ने बताया कि डमरू लगाने से उपरांत सुबह से ही मंदिर प्रांगण में भजन कीर्तन का आयोजन किया गया और पूरे रीति-रिवाज के साथ हवन कर डमरू को लगाया गया है। यहां आने वाले हर भक्त की मनोकामना पूर्ण होगी और उसे मनचाहा फल मिलेगा। इस मौके पर प्रबंधक पुजारी सीताशरण तिवारी, बीजेपी नेता दीपांशु अरोड़ा, सुनील गोयल, कमल बाबा, आचार्य महेश पंडित, राम नारायण झा सहित सैकड़ों गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here