33वें सूरजकुंड मेले में एड्स पर नुक्कड़ नाटक का मंचन 

0
485
Faridabad News, 14 Feb 2019 : 33वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय क्राफ्ट मेले में राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेड क्रॉस और सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड के सदस्यों और ब्रिगेड प्रभारी रविन्दर कुमार मनचन्दा ने हरियाणा स्वास्थ्य विभाग फरीदाबाद, हरियाणा एड्स कंट्रोल सोसाइटी और नेको के सहयोग से एच आई वी एड्स जागरूकता पर एक नुक्कड़ नाटक का मंचन किया। सराय ख्वाजा विद्यालय के इंग्लिश लेक्चरर रविन्दर कुमार मनचन्दा ने बताया कि जूनियर रेड क्रॉस व ब्रिगेड का प्रितिनिधित्व करते हुए बच्चों ने नाटक के माध्यम से एड्स की भयावहता को दर्शाया और कहा कि एड्स पीड़ित व्यक्ति को समाज में हेय दृष्टि से देखा जाता है और उस के बच्चों और परिवार को समाज से अलग कर दिया जाता है और उन्हें ऐसा महसूस होने लगता है जैसे उन्होंने कोई बड़ा अपराध कर दिया हो। यहाँ तक कि एच आई वी पॉजिटिव के बच्चों को स्कूल से भी निकाल दिया जाता है नुक्कड़ नाटक के माध्यम से बच्चों ने समाज के ऐसे वर्ग का चित्रण और मंचन किया। मनचन्दा ने कहा कि एच आई वी संक्रमित व्यक्तियों को अलग थलग करने की मानसिकता बदलने की जरूरत है तथा एच आई वी संक्रमित व्यक्तियों की प्रॉपर कॉउंसलिंग और परामर्श द्वारा सही मार्ग पर लाये जाने से उन का इलाज सुगमता से और शीध्रता से किया जाना संभव है। उन्होंने उपस्थित जन समुदाय को बताया कि किसी एच आई वी पॉजिटिव का रक्त किसी स्वस्थ्य व्यक्ति को चढ़ाने से, एच आई वी पॉजिटिव मां से उस के  गर्भस्थ शिशु को और   एच आई वी पॉजिटिव के साथ असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करने से एड्स का वायरस किसी को भी संक्रमित कर सकता है। परंतु स्वास्थ्य की उचित देखभाल, उचित खानपान और उचित उपचार और दृढ़ इच्छाशक्ति से एच आई वी पॉजिटिव व्यक्ति भी स्वस्थ और पूरा जीवन जी सकता है तथा समाज का मुख्य अंग बन समाज में मुख्य भूमिका निभा सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि एच आई वी संक्रमित व्यक्ति केवल असुरक्षित यौन संबंधों से ही एच आई वी से संक्रमित नही होता बल्कि पहले बताए गए अन्य दो कारणों से भी संक्रमित हो सकता है। तभी तो कहते है कि सही और पूरी जानकारी, दूर रखें एड्स की बीमारी। नि:संदेह एड्स लाइलाज बीमारी है फिर भी जागरूकता से इस से शर्तिया बचा जा सकता है। इसलिए जो किसी भी वजह से एच आई वी से संक्रमित हो गए है उनका हौसला बनाए रखने और नैतिक समर्थन देते रखने से उनमें आत्मविश्वास जाग्रत होगा और बेहतर ढंग रोग से बचाव व इलाज कर पाएंगे। प्राचार्या नीलम कौशिक, स्वास्थ्य विभाग के काउंसलर पंकज, काउंसलर संगीता ने अंग्रेजी प्रवक्ता रविन्दर कुमार मनचन्दा, रेड क्रॉस व ब्रिगेड सदस्यों सुमित, विशाल, राजेन्द्र, वरुण, राजू और शुभम की एड्स जागरूकता में सहयोग देने व 33वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय क्राफ्ट मेले में नुक्कड़ नाटक द्वारा संदेश देने के लिए आभार व्यक्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here